Domain Registration ID: D414400000002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
Atul Jain April 28, 2020

सह.सम्पादक अतुल जैन की रिपोर्ट

इंदौर। कोरोना के लॉकडाउन में प्रशासन ने किसानों और उपभोक्ताओं की समस्या को समझते हुए सब्जियों की खरीदी-बिक्री से बंदिश हटाने की तैयारी कर ली है। इस आपूर्ति व्यवस्था में सब्जी मंडियां तो पहले की तरह ही बंद रहेंगी, लेकिन सब्जी की होम डिलीवरी की जाएगी। प्रशासन ने तय किया है कि 150 रुपये में सब्जी का पैकेट मिलेगा।

किसान से लेकर उपभोक्ता के घर तक सब्जी पहुंचाने के लिए एक पूरी सप्लाई चेन बनाई गई है। इसमें बड़े सब्जी व्यापारी शहर के बाहर ही किसान से सब्जी खरीदकर उसे किराना दुकानों तक पहुंचाएंगे। किराना की ही तरह घर-घर तक सब्जी के पैकेट पहुंचेंगे। यह पूरी आपूर्ति व्यवस्था नगर निगम के अधिकारियों की निगरानी में होगी। पैकेट में ये सब्जियां मिलेंगी जैसे कि एक किलो लौकी, एक किलो टमाटर, आधा किलो भिंडी, 200 ग्राम धनिया, 200 ग्राम मिर्च, 100 ग्राम अदरक और आधा किलो अन्य ऐसी सब्जी जो उपलब्ध हो। इसमें गिलकी, करेला, गाजर, पालक, बैंगन या ककड़ी आदि में से कोई हो सकती है।

पूरी व्यवस्था को जमाने के लिए कलेक्टर मनीषसिंह ने मंडी बोर्ड, मंडी समिति, कृषि व उद्यानिकी अधिकारियों के साथ बैठक की और चोइथराम मंडी के बड़े सब्जी कारोबारियों से चर्चा के बाद इसे अंतिम रूप दिया है। कलेक्टर का कहना है कि सब्जी आपूर्ति के लिए नई व्यवस्था और नया नेटवर्क बनाने के बजाय हम निगम के जरिए किराना सप्लाई की पहले से बनी-बनाई व्यवस्था का ही उपयोग करेंगे।

इससे लॉकडाउन का बेहतर तरीके से पालन भी होता रहेगा और किसानों की सब्जी भी खेतों में खराब नहीं होगी। साथ ही उपभोक्ताओं तक उचित दाम पर सब्जी भी पहुंच जाया करेगी। व्यवस्था से जुड़े सब्जी कारोबारी नवीन भिलवारे ने बताया कि पूरी व्यवस्था के लिए छह-सात बड़े कारोबारियों का चयन किया गया है। सब्जी पैकिंग के सभी सेंटर शहर के बाहर बायपास रोड पर होंगे।

शहर के बाहर बायपास पर बेस्ट प्राइज से लेकर खंडवा रोड पर तेजाजी नगर और राऊ तक छह-सात सब्जी पैकिंग सेंटर बनाए जाएंगे। ये सेंटर सब्जी कारोबारियों द्वारा जगह देखकर तय किए जाएंगे। इसमें निजी स्कूल-कॉलेज परिसर, चोखी ढाणी, गार्डन और अन्य भवन शामिल हैं। किसान इन पैकिंग केंद्रों पर सब्जी लेकर आएंगे। कारोबारी इनसे सब्जी खरीदकर अपने कामगारों से सब्जी के पैकेट बनवाएंगे। इसके बाद यह पैकेट निगम के जोनवार और वार्डवार तय किराना कारोबारियों तक भिजवाए जाएंगे।

नगर निगम की कचरा गाड़ियां जिस तरह से किराना सामान का ऑर्डर ले रही हैं उसी तरह हर वार्ड और कॉलोनी में घर-घर से सब्जी के ऑर्डर ले लेंगी। यह ऑर्डर उस एरिया के लिए चिन्हित किराना कारोबारी तक भिजवा दिए जाएंगे। किराना कारोबारी अपने डिलीविरी बॉय के जरिए सब्जी के पैकेट संबंधित उपभोक्ता तक पहुंचाएंगे। मंडी सचिव मानसिंह मुनिया के मुताबिक, सब्जी कारोबारियों की सूची बना ली गई है। प्रशासन के निर्देश पर जल्द ही यह व्यवस्था शुरू की जाएगी।

SD TV (JAIN TV)

SD TV (MOVIE & ENTERTAINMENT)

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*