Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)


बसों के संचालन को लेकर असमंजस की स्थिति, लॉकडाउन अविध में शादी समारोह पर रहेगी रोक
जिला प्रशासन और पुलिस प्रासन द्वारा लॉकडाउन का सख्ती से करवाया जाएगा पालन


झाबुआ। 8 अप्रेल, गुरूवार शाम 4 बजे से कलेक्ट्रोरेट सभा कक्ष में जिला आपदा प्रबंधन की बैठक प्रभारी कलेक्टर एवं जिला पंचायत सीईओ सिद्धार्थ जैन तथा जिला पुलिस अधीक्षक आातोष गुप्ता की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें मुख्य रूप से निर्णय लिया गया कि मप्र शासन के आदेानुसार झाबुआ जिले के शहरी एवं नगरीय क्षेत्रों में अब शुक्रवार शाम से सोमवार 6 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा। इस बीच इमरजेंसवी सेवाओं में पेट्रोल, पंप, मेडिकल और सब्जी-फल की दुकाने खुली रहेंगी। लॉकडाउन अवधि में शादी समारोह नहीं होंगे। बसों के संचालन को लेकर अभी भी अमसंजस की स्थिति बनी हुई है। जिला प्रासन और पुलिस प्रासन द्वारा लॉकडाउन का सख्ती से जिले में पालन करवाया जाएगा।
बैठक के प्रारंभ में प्रभारी कलेक्टर जिपं सीईओ सिद्धार्थ जैन ने झाबुआ जिले में कोविड की स्थिति की जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में जिले में 259 कोविड के एक्टीव केस और करीब 374 मरीजों को रिपोर्ट आना शेष है। पहले की तुलना में अब जिले मे फिर से कोविड के केस लगतार बढ़ते जा रहे है, इसके लिए जिला प्रासन और पुलिस प्रासन को अत्यधिक सख्ती बरतना बहुत जरूरी हो गया है। मप्र शासन द्वारा संपूर्ण प्रदे में शहरी एवं नगरीय क्षेत्रों में 9 अप्रेल, शुक्रवार शाम 6 से लेकर सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन किया गया हे। इस अवधि में लॉकडाउन स्थानां पर लोगों का बाहरी प्रवे वर्जित रहेगा। इसी क्रम में झाबुआ जिले में भी शहरी और नगरीय क्षेत्रों में शुक्रवार शाम 6 से लेकर सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन किया जाना नियत किया गया है। इसका सभी को कड़ाई से पालन करना होगा।
इररजेंसवी सेवाएं रहेगी चालू
प्रभारी कलेक्टर श्री जैन ने बताया कि इस बीच इमरजेंसी सेवाओं में मेडिकल, पेट्रोल पंप, सब्जी, फल, दूध आदि की दुकाने खुली रहेंगी। इसके साथ ही परिवहन सेवाएं निर्बाध रूप से चालू रहने के साथ लॉकडाउन अवधि में बसों के संचालन पर असमंजस बना रहा। लॉकडाउन अवधि में शादी समारोह भी नहीं होंगे। साथ ही अन्य दिनां में भी शादी समारोहों में बारातियों की संख्या 50 से अधिक नहीं होना चाहिए तथा रिप्सन या पार्टी जैसे बड़े कार्यक्रम नहीं किए जाए।
फर्जी पास वालां पर 420 का मुकदमा
बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक श्री गुप्ता ने कहा कि लॉकडाउ कां पुलिस प्रासन द्वारा सख्ती से पालन करवाया जाएगा। इमरजेंसी सेवाओं के पास स्वयं संबंधित संस्थाएं ही जारी करेगी। फर्जी पास वालों पर धारा 420 के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा। लॉकडाउन के दौरान शहर में बेवजह घूमने वाले लोगां, जिसमें विषकर बेवजह घूमने वाले युवाओ के लिए चार पहिया वाहन में अस्थायी जेल की व्यवस्था की जाएगी। लॉकडाउन अवधि का जिला प्रासन के साथ पुलिस प्रासन द्वारा भी सख्ती से पालन करवाया जाएगा।
कंट्रोल रूम स्थापित किए जाएंगे
प्रभारी कलेक्टर श्री जैन एवं पुलिस अधीक्षक श्री गुप्ता ने बताया कि जिला प्रासन एवं पुलिस प्रासन द्वारा इसके लिए बकायदा अलग से कंट्रोल रूम स्थापित कर इनके नंबर सार्वजनिक किए जाएंगे, ताकि कोई भी व्यक्ति किसी प्रकार की मद्द कंट्रोल रूम पर दूरभाष कर प्राप्त कर सकता है। चूंकि लॉकडाउन पूर्व की तरह नहीं होने से होम डिलेवरी की जरूरत नहीं होने की बात प्रभारी कलेक्टर श्री जैन की ओर से कहीं गई।
इन्होंने दिए सुझाव
बैठक में सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने कहा कि इमरजेंसवी सेवाओं में लगे व्यापारियों के पास जारी किए जाएं और विषकर गंभीर बिमारी वाले मरीजों को भी इस दौरान परेान ना किया जाए। साथ ही एंबुलेंस जैसी सेवाएं भी निर्बाध रूप से जारी रखी जाए। जिला भाजपा अध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक ने जिला प्रासन और पुलिस प्रासन के सभी निर्णयों पर सहमति व्यक्त करते हुए कहा कि वह भाजपा के सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं से भी इसका सख्ती से पालन करवाएंगे। जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भट्ट ने सुझाव दिया कि लॉकडाउन अविध में शहरी एवं नगरीय क्षेत्रों में ग्रामीण क्षेत्रों के लोग ना आए, इसके लिए ग्रामीण अंचलों में मुनादी करवाई जाए।
मंदिर, मस्जिद, चर्च खुले रहेंगे, लेकिन ज्यादा भीड़ नहीं होने दी जाए
भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने सुझाव दिया कि लॉकडाउन अवधि खत्म होने के बाद जो भीड़ बाजारों में बढ़ेगी, उनके लिए मास्क पहनना और सोल डिस्टेनसिंग का पालन अनिवार्य किया जाए। जिला केमिस्ट एसोसिएान के अध्यक्ष मनोज बाबेल ने मेडिकल व्यवसाईयों को पास की व्यवस्था करने को सुझाव दिया। पार्षद राद कुरैी ने शुक्रवार को मस्जिदां में होने वाली विष नमाज में किस तरह की व्यवस्था रखी जाए, यह बात रखी। जिस पर प्रभारी कलेक्टर ने कहा कि मंदिर, मस्जिद और चर्चों में लोग र्दान, पूजन के लिए जा सकते है, लेकिन ज्यादा भीड़ नहीं करना, मास्क पहनना अनिवार्य होने के साथ सोल डिस्टेनसिंग का भी पालन किया जाए।
यह रहे उपस्थित
बैठक में मुख्य रूप से अपर कलेक्टर जुवानसिंह बघेल एवं एमएल मालवीय, एसडीएम सोहन कनास, डीएसपी आाष टीआर पटेल, एसडीओपी झाबुआ इडल मोर्य, जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन डॉ. बीएस बघेल, पार्षद जुवानसिंह गुंडिया, नरेन्द्र राठौरिया, सकल व्यापारी संघ से वरिष्ठ भरत बाबेल, कैथोलिक डायोसिस के पीआरओ फा. रॉकी शाह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, जनप्रतिनिधि, गणमान्यजन आदि उपस्थित थे।


फोटो 001 -ः जिला आपदा प्रबंधन की बैठक में निर्दे देते प्रभारी कलेक्टर श्री जैन एवं पुलिस अधीक्षक श्री गुप्ता।


फोटो 002 -ः बैठक में उपस्थित अधिकारी, जनप्रतिनिधि और सामाजिक, व्यापारिक संस्थाओं के पदाधिकारीगण।

Leave a Reply