Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

विदिशा।कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा आज क्राइसेस मैनेजमेंट समिति की बैठक आयोजित की। उन्होंने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से अनुविभाग स्तर के सदस्यों से भी संवाद स्थापित किया है।
जिला मुख्यालय पर एनआईसी के वीडियो कांफ्रेसिंग कक्ष में कुरवाई विधायक हरिसिंह सप्रे, विदिशा विधायक शशांक भार्गव, शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री सिंह के अलावा समिति के अन्य पदाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक विनायक वर्मा, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर, अपर कलेक्टर वृदांवन सिंह, संयुक्त कलेक्टर रोशन राय के अलावा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार, मेडीकल कॉलेज के सिविल सर्जन डॉ परमहंस, विदिशा एसडीएम गोपाल सिंह वर्मा समेत अन्य विभागो के अधिकारी मौजूद थे।
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने जिले में कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु किए गए आवश्यक प्रबंधो की विस्तारपूर्वक जानकारी से समिति के सदस्यगणो को अवगत कराया है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के संबंध में समय-समय पर जारी होने वाली गाइड लाइन से एवं शासन के नवीनतम दिशा निर्देशो की जानकारी से जिले के व्यापारीगणो, धर्मगुरूओं, निजी चिकित्सक संचालको को पूर्व में ही अवगत कराया जा चुका है।
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने क्राइसेस मैनेजमेंट समिति की बैठक आयोजित करने के उद्धेश्यों को रेखांकित करते हुए जिले में कोरोना के संक्रमण को प्रभावहीन बनाने और पीड़ितों के इलाज हेतु अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय में किए गए प्रबंधो के अलावा ऐसे मरीज जिन्हें होम कोरोन्टाइन, होम आइसोलेशन में रखते हुए माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए है कि भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी है।
बैठक के दौरान विधायकगणो सहित अन्य सदस्यों के द्वारा कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए किए जाने वाले प्रबंधो, लक्षणविहिनों का सेम्पल लेने की अवधि, रात्रिकालीन चिकित्सकों को पूरे अधिकार, स्टाफ की कमी को दूर करने के लिए किए गए प्रबंधो, वैक्सीनेशन की उपलब्धता, व्यापारीगण पहले टीकाकरण कराएं फिर व्यवसाय का संचालन करें। टीकाकरण के उपरांत प्राप्त होने वाला प्रमाण पत्र की प्राप्ति, ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण के लिए किए गए प्रबंधो के संबंध में बिन्दुवार जानकारी कलेक्टर द्वारा दी गई है। समिति के सदस्यों ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया है कि लॉकडाउन दिवस रविवार को यदि किसी के द्वारा उल्लघंन किया जाता है तो उससे भी सौ रूपए जुर्माना वसूला जाएगा।
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने गृह विभाग द्वारा जारी नवीन दिशा निर्देशो का हवाला देते हुए बताया कि प्रदेश के समस्त नगरीय क्षेत्रों में प्रतिदिन रात्रि दस बजे से सुबह छह बजे का रात्रिकालीन लॉकडाउन प्रभावशील रहेगा। उन्होंने बताया कि जिले के नगरीय निकाय क्षेत्रों में शुक्रवार सायं छह बजे से सोमवार प्रातः छह बजे तक लॉकडाउन प्रभावशील करने के अलावा सम्पूर्ण प्रदेश के समस्त शासकीय कार्यालयों के कार्यदिवस सप्ताह में पांच दिवस (सोमवार से शुक्रवार) निर्धारित किए जाते है। शनिवार एवं रविवार को समस्त शासकीय कार्यालय बंद रहेंगें पांच कार्यदिवसों में कार्यालयीन समय प्रातः दस बजे से सांय छह बजे तक नियत होगा। उक्त आदेश 31 जुलाई तक प्रभावशील रहेंगे। सामान्य प्रशासन विभाग मध्यप्रदेश शासन द्वारा पृथक से आदेश जारी किए जा रहे है।
लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी गाइड लाईन्स अनुसार हॉटस्पाट क्षेत्र, कन्टेंनमेंट जोन में सात से दस दिवस का लॉकडाउन जिला कलेक्टर लागू कर सकेंगे। इन हॉटस्पाट क्षेत्र, कन्टेनमेंट जोन में आवाजाही पर वे समस्त प्रतिबंध लागू होंगे। जो लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की गाइडलाईन्स में उल्लेखित है। उक्त दिशा निर्देशो का समयावधि में तथा कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश प्रसारित किए गए है।
गतिविधियां जिन्हें लॉकडाउन में प्रतिबंध से छूट रहेंगी
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने प्रदेश के गृह विभाग द्वारा सात अपै्रल को जारी कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम एवं बचाव हेतु आवश्यक दिशा निर्देशो में लॉकडाउन अवधि में जिन गतिविधियों को लॉकडाउन के बंधन से मुक्त रखा के संबंध में जारी परिशिष्ट से भी अवगत कराया है। उक्त परिशिष्ट में उल्लेख है कि गतिवधियां जिन्हें लॉकडाउन में प्रतिबंध से छूट रहेगी उनमें अन्य राज्यों से माल, सेवाओं का आवागमन, केमिस्ट, राशन दुकाने, अस्पताल, पेट्रोल पम्प, बैंक एवं एटीएम दूध एवं सब्जी की दुकाने। औद्योगिक मजदूरो, उद्योगो हेतु कच्चा, तैयार माल, उद्योगो के अधिकारियों, कर्मचारियों का आवागमन। केन्द्र सरकार, राज्य सरकार एवं स्थानीय निकाय के अधिकारी, कर्मचारी का आवागमन। परीक्षा केन्द्र आने एवं जाने वाले प्रशिक्षार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुडे़कर्मी, अधिकारीगण। एम्बुलेंस एवं फायर बिग्रेड सेवाएं। टीकाकरण हेतु आवागम कर रहे नागरिक, कर्मी, बस स्टेण्ड, रेल्वे स्टेशन, एयरपोर्ट से आने-जाने वाले नागरिक शामिल है।

Leave a Reply