Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

बांदा जेल को वीवीआईपी माफिया की जेल का जाता है.


बांदा जेल को वीवीआईपी माफिया की जेल का जाता है.

यूपी के पूर्वांचल का माफिया डॉन और विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) इस समय बांदा जेल में बंद है. जबकि यह जेल बड़े माफिया को लेकर हमेशा से सुर्खियों में रही है.

बांदा/ लखनऊ. पूर्वांचल का माफिया डॉन और विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) अब बांदा जेल पहुंच गया है और वह अब बांदा जेल (Banda Jail)के बैरक नंबर 16 में रहेगा. इससे पहले मुख्तार अंसारी एक मामले में पंजाब की रोपड़ जेल (Ropar Jail) में बंद था. जबकि उसे यूपी लाने के लिए योगी सरकार और पंजाब सरकार के बीच सुप्रीम कोर्ट तक मामला चला. 26 मार्च को सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश भेजने का आदेश दिया था. शीर्ष अदालत ने पंजाब की जेल में बंद मुख्तार को दो सप्ताह में उत्तर प्रदेश भेजने का निर्देश दिया था. कोर्ट ने मुख्तार की कस्टडी ट्रांसफर याचिका पर यह फैसला सुनाया था.मुख्तार अंसारी की वजह से बांदा जेल एक बार चर्चा में है. हालांकि यह जेल हमेशा से सुर्खियों में रही है. कभी अनिल दुजाना के सूटर, कभी दस्यु सरगना बलखड़िया, तो कभी ददुआ के गुर्गे बांदा जेल में बंद रहे हैं. हमेशा से बांदा जेल वीवीआईपी गुंडों के नाम से जानी गई है. यही नहीं, इस जेल में यूपी के जेल मंत्री तक लंबे समय तक बंद रहे हैं. अब यूपी के माफिया डॉन मुख्तार अंसारी को भी इसी जेल में रखा गया है.

पहले थी वीवीआईपी जेल, लेकिन…
यूपी के बांदा जेल में पहले बहुत सारी सुख सुविधाएं गुंडों या फिर दबंगों को मिलती थीं जिन्हें जानकर आप हैरान हो जाएंगे, लेकिन अब उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद से सारे गुंडे माफियाओं की हालत खराब हो गई है. यही नहीं, सारी सुख सुविधाएं बंद हो गई हैं. एक बार फिर बांदा के इसी मंडल कारागार में यूपी के सबसे बड़े डॉन बाहुबली विधायक माफिया मुख्तार अंसारी को भी शिफ्ट किया गया है. वह पूर्व में भी इसी मंडल कारागार में था, लेकिन उसे बाद में पंजाब में एक फिरौती मांगने के मामले में मुकदमा दर्ज होने के बाद पंजाब की रोपड़ जेल भेज दिया गया था. इसके बाद यूपी में लगभग 50 मामले माफिया मुख्तार अंसारी के ऊपर दर्ज हुए. योगी सरकार माफिया पर लगातार लगाम लगा रही है.उसी क्रम में माफियाओं पर लगाम लगाने की मंशा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की इसमें मुख्तार अंसारी को लेकर कहा कि उत्तर प्रदेश में माफिया मुख्तार अंसारी के नाम कई मामले दर्ज हैं. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुध ली और फैसला यूपी सरकार के हित में देते हुए अंसारी को यूपी की जेल में शिफ्ट करने का आदेश दे दिया.बांदा जेल को क्‍यों कहते हैं कालापानी
मुख्तार अंसारी को बांदा जेल ही क्यों लाया गया है? इसका जवाब है कि यूपी की बांदा जेल वो जेल है, जिसे अक्सर कालापानी भी कहा जाता है. इस जेल ने एक से बढ़ कर एक डॉन, गैंगस्टर, बाहुबली नेता और चंबल के डकैत को अपनी कैद में रखा है. कुंडा के राजा भैया, डॉन अतीक अहमद, पुरुषोत्तम द्विवेदी, नोएडा का कुख्यात गैंगस्टर अनिल दुजाना या चंबल का डाकू ददुआ या फिर बालखड़िया सभी कभी ना कभी बांदा की इस जेल में रह चुके हैं. मऊ, मथुरा, आगरा, दिल्ली के तिहाड़ जेल से होते हुए 2017 में यूपी की सरकार बदलने के बाद मुख्तार अंसारी भी पहली बार बांदा जेल पहुंचा था. इसी बांदा जेल में 9 जनवरी 2019 को मुख्तार की तबीयत बिगड़ी थी. जेल प्रशासन का कहना था कि उसे दिल का दौरा पड़ा है, लेकिन घरवालों ने इल्ज़ाम लगाया कि मुख्तार को जेल के अंदर चाय में जहर देकर जान से मारने की कोशिश की गई थी.







Source by [author_name]

Avatar

Leave a Reply