Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

बीजेपी ने मुलायम सिंह यादव की भतीजी को अपनी टिकट पर  जिला पंचायत का उम्मीदवार बनाया है.


बीजेपी ने मुलायम सिंह यादव की भतीजी को अपनी टिकट पर जिला पंचायत का उम्मीदवार बनाया है.

मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की भतीजी संध्या यादव को बीजेपी (BJP) ने मैनपुरी जिला पंचायत अध्यक्ष का उम्मीदवार बनाया है. राजनीतिक जानकारों का कहना है कि बीजेपी ने ऐसा करके समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) को बड़ा झटका दिया है.

मैनपुरी. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की राजनीति के सबसे बड़े घराने में एक बार फिर फूट निकल कर सामने आई है. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के संरक्षक मुलायम सिंह (Mulayam Singh) यादव की भतीजी संध्या यादव को भाजपा ने टिकट देकर बड़ी सियासी चाल चल दी है. या फिर यूं कहें कि समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका दिया है. कुनबे में चल रही दरार का फायदा अब भाजपा त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में उठाना चाहती है. मुलायम सिंह की भतीजी को टिकट मिलने के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चा गरम हो गई है.मैनपुरी में तीस जिला पंचायत वार्डों के लिए सदस्य पद का चुनाव किया जाना है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सभी सीटों के लिए प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है. भाजपा ने मुलायम सिंह की भतीजी संध्या यादव को वार्ड नंबर 18 घिरोर तृतीय से अपना प्रत्याशी बनाया है. सपा के गढ़ में भाजपा ने मुलायम की भतीजी को टिकट देकर सियासी चाल चली है. 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी में फूट पड़ गई थी, उसका असर परिवार के अन्य सदस्यों पर भी पड़ा. नतीजा यह रहा कि धीरे-धीरे परिवार के सदस्य और रिश्तेदार अलग होते चले गये.

Mukhtar Ansari News: बांदा की जेल में घुसते ही अपने पैरों पर खड़ा हुआ मुख्‍तार अंसारी, जानें क्‍या है पूरा माजरा?
संध्या यादव पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष पद से हटाने के लिए समाजवादी पार्टी के ही एक विधायक के इशारे पर 2017 में अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था, लेकिन भाजपा ने संध्या यादव की मदद की और वह अपनी कुर्सी बचा ले गईं. तब से संध्या यादव की भाजपा से करीबियां बढ़ती चली गईं. भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष प्रदीप चौहान ने कहा कि संध्या यादव के पति ने भाजपा की बहुत मदद की है. यही वजह है कि उन्हें और उनके पति को सपा से पिछले 3 वर्षों से कोई लेना-देना नहीं है. अनुदेश यादव संध्या के पति भाजपा में पहले से शामिल थे और अब उनकी पत्नी संध्या यादव भाजपा ने अपना प्रत्याशी बनाया है.भाजपा जिला अध्यक्ष प्रदीप चौहान ने कहा कि यूपी में समाजवादी पार्टी का तथाकथित समाजवाद रहा होगा, लेकिन उसके बाद उन्होंने समाजवाद क्या किया होगा. लोहिया जी की आत्मा रो रही होगी. लोहिया जी कहते थे कि जिंदा कोमें 5 वर्ष इंतजार नहीं करते. समाजवादी पार्टी के किसी कार्यकर्ता को अगर मैनपुरी लोकसभा से टिकट चाहिए तो 5 वर्ष नहीं ईश्वर से प्रार्थना करके सफाई की किसी मां की कोख से जन्म लेना पड़ेगा.







Source by [author_name]

Avatar

Leave a Reply