Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

यमुना एक्सप्रेस-वे पर काफिला एक गलत रूट पर मुड़ गया. 


यमुना एक्सप्रेस-वे पर काफिला एक गलत रूट पर मुड़ गया.

Mukhtar Ansari Latest Update:  यमुना एक्सप्रेस-वे पर यूपी पुलिस (UP Police) का काफिला गलत रूट पर मुड़ गया था. फिर फौरन बाद गाड़ियां वापस ट्रैक पर आ गई.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश  पुलिस मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) को लेकर आगरा से ताज एक्सप्रेस-वे पर चल पड़ी है. इस बीच बड़ी खबर आ रहा है कि यमुना एक्सप्रेस-वे में एक रूट पर मुख्तार अंसारी को ले जाने वाला काफिला गलत रूट पर मुड़ गया था. लेकिन उसके बाद तुरंत गाड़ियां वापस आकर फिर से यमुना एक्सप्रेस-वे पर चल पड़ी. जानकारी मिल रही है कि काफिले में 88 पैकेट डिनर सप्लाई किया गया.
इस दौरान मुख्तार को भी खाने का पैकेट दिया गया. कहा जा रहा है कि मुख्तार ने पुलिस के हाथ से पानी नहीं पिया. काफिले में यूपी पुलिस के जवान, PAC के जवान, STF , दो डिप्टी एसपी, 10 सब इंस्पेक्टर , दो इंस्पेकचर, 5 सदस्यीय मेजिकल टीम, कुल मिलाकर 150 लोग शामिल हैं.मुख्तार के काफिले में चल रही पुलिस की 2 बोलेरो गाड़ी जिनमें सीओ बैठे हैं इन गाड़ी की टंकी में 60 लीटर डीजल आता है जो कि 12 किलोमीटर प्रति लीटर का एवरेज देती है. वहीं 4 टाटा सूमो गाड़ी भी काफिले में शामिल है. उनकी टंकी भी 60 लीटर की होती है जो कि 13 से 14 किलोमीटर प्रति लीटर का एवरेज देती है. ऐसे में मुख्तार के काफिले को हर हाल में किसी न किसी जगह गाडियों में डीजल लेने के लिए रुकना ही पड़ेगा.

सीएम आवास में बैठकमुख्तार अंसारी को लेकर फिलहाल मुख्यमंत्री आवास में हाई लेवल मीटिंग हो रही है. बैठक में प्रमुख सचिव गृह डीजीपी समेत सभी अफसर मौजूद हैं. यूपी के कई जिलों को भी अलर्ट जारी कर दिया गया है. सभी मामलों पर सीएम योगी लगातार अपडेट ले रहे हैं. यूपी के जिन जिलों से मुख्तार अंसारी गुजरेगा वहां की पुलिस की गाड़ियां में मुख्तार के काफिले में सुरक्षा के लिहाज से शामिल होंगे.

ये भी पढ़ें: Mukhtar Ansari News: अफजाल बोले- एक मंत्री ने किया था गाड़ी पलटने का दावा, हमें कोर्ट पर भरोसा मुख्तार के एंबुलेंस की जांच

एडीजी जोन लखनऊ एसएन साबत ने मुख्तार के एंबुलेंस का बारिकी से निरीक्षण किया. एडीजी ने कहा कि एआरटीओ और पुलिस की टीम एंबुलेंस की जांच कर रही है. उन्होंने बताया कि हमारी एक टीम अभी भी पंजाब में है और पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. एक टीम ने मऊ जाकर केस से जुड़े लोगों से की पूछताछ की है. एडीजी ने कहा कि इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर बाराबंकी लाया गया है. एडीजी ने दावा किया कि  बाराबंकी पुलिस ने लगभग ये पूरा केस सुलक्षा लिया है. जल्द इस मामले से जुड़े सारे तथ्य़ सामने आ जाएंगे.







Source by [author_name]

Avatar

Leave a Reply