Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

परिजनों के मुताबिक बच्चे की मौत आईएस बीमारी के लक्षणों से हुई है..


परिजनों के मुताबिक बच्चे की मौत आईएस बीमारी के लक्षणों से हुई है..

Chamki Fever in Bihar: बिहार के मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार ने एक 12 साल के बच्चे की मौत का मामला सामने आया है. चमकी बुखार से इस साल जिले में यह पहली मौत है. हालांकि, स्वास्थ्य विभाग इसे मानने को तैयार नहीं है.

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार ने एक 12 वर्षीय बच्चे की जिंदगी छीन ली है. चमकी बुखार से इस साल जिले में यह पहली मौत है. परिजनों के मुताबिक बच्चे की मौत आईएस बीमारी के लक्षणों से हुई है जबकि स्वास्थ्य विभाग इसे मानने को तैयार नहीं है. मृतक की पहचान कांटी थाना के गोसाई टोला निवासी कमलेश सहनी के बेटे नंदन के रूप में हुई है. मृतक नंदन के परिजनों ने बताया कि रविवार को नंदन चमकी बुखार से से बीमार हुआ और हाथ-पैर खींचने लगा. तेज बुखार की वजह से नंदन बेहोश भी हो गया. तत्काल परिजन उसे लेकर काटी पीएचसी गए जहां डॉक्टर ने उसका प्राथमिक उपचार किया.बेहतर इलाज के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया. कांटी पीएचसी के डॉ. कुमुद रंजन ने बताया कि बच्चा बेहोश आया था और चमकी बुखार का सिंप्टोमेटिक ट्रीटमेंट किया गया. एसकेएमसीएच पहुंचने पर नंदन को पीडिया आईसीयू में भर्ती किया गया, जहां एईएस के एसओपी के मुताबिक नंदन का इलाज किया गया. लेकिन इलाज के दौरान नंदन की रविवार की रात को मौत हो गई.

इस मामले में जब सिविल सर्जन डॉक्टर एस के चौधरी से बात की गई तो उन्होंने जांच कराने की बात कही है. हालांकि सिविल सर्जन डॉ चौधरी ने इसे चमकी बुखार का मामला मानने से इंकार कर दिया और बताया कि बच्चे को मिर्गी की हिस्ट्री थी. उन्होंने कहा है कि नंदन के मौत के कारणों की जांच कराई जाएगी.







Source by [author_name]

Avatar

Leave a Reply