Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

मधुबनी हत्याकांड पर सियासत तेज हो गई है.


मधुबनी हत्याकांड पर सियासत तेज हो गई है.

Bihar Politics:  मधुबनी हत्याकांड (Madhubani Murder Case) को लेकर बिहार में सियासत तेज हो गई है. तेजस्वी यादव के दौरे पर अब विपक्ष ने सवाल खड़े कर दिए हैं तो वहीं पप्पू यादव ने आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर दिया है.

दिल्ली. मधुबनी हत्याकांड (Madhubani Murder Case) को लेकर बिहार की राजनीति गरमा गई है. जेडीयू ने इस मुद्दे पर तेजस्वी यादव (Tejashwi yadav) पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि वे इस पूरे मामले में राजनीति कर रहे हैं. न्यूज18 से बात करते हुए जेडीयू सांसद सुनील कुमार पिंटू ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पूरी तरह से राजनीति कर रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि राजनीति के साथ-साथ जातीय रंग देने की भी तेजस्वी की कोशिश है. लेकिन, ये मामला जातीय नहीं है. आपसी विवाद में यह घटना हुई है. जेडीयू सांसद ने तेजस्वी के दौरे के औचित्य पर सवाल खड़ा करते हुए कहा, /जब इस मामले में मुख्यमंत्री संज्ञान लेकर पांच बार डीजीपी से बात कर चुके हैं, आरोपियों की कुर्की -ज़ब्ती हो चुकी है, तो फिर तेजस्वी क्या करने जा रहे हैं ?

उधर, बीजेपी की तरफ से पूर्व उपमुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने भी तेजस्वी के इस दौरे को लेकर सवाल खड़ा किया है. बीजेपी सांसद ने इस मामले में राजनीति नहीं करने की नसीहत दी है. लेकिन जेडीयू-बीजेपी के अलावा विपक्ष की तरफ से भी तेजस्वी यादव के दौरे पर सवाल खड़ा किया जा रहा है. पूर्व सांसद और  जाप अध्यक्ष पप्पू यादव ने तेजस्वी यादव से सवाल पूछते हुए कहा कि होली के दिन से ही खून की होली खेली जा रही है लेकिन विपक्ष को पता नहीं है.

पप्पू यादव ने कसा तंज

पप्पू यादव ने तेजस्वी पर तंज कसते हुए कहा कि कुंभकर्ण की नींद कब खुली, जब जाति का रंग चढ़ गया.  जाप अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि पहले भी रूपेश हत्याकांड के बाद उनके घर गए थे. लेकिन सदन के भीतर यह मामला उठा तक नहीं ? एक महीना सदन चली लेकिन रूपेश मामले में एक सवाल तक नहीं हुआ. पप्पू यादव ने मांग की है कि जल्द से जल्द मुख्य अभियुक्त की गिरफ्तारी और स्पीड ट्रायल की जाए और उस परिवार को 50 लाख का मुआवजा दिया जाए. इसके अलावा परिवार के सदस्यों को सरकारी नौकरी भी दी जाए. ये सब कुछ अगर एक हफ्ते के भीतर नहीं होता है तो हमारी पार्टी वहां लगातार धरना देगी. पप्पू यादव ने इसके लिए आर-पार की लड़ाई लड़ने का ऐलान कर दिया.

उधर, कांग्रेस की पूर्व सांसद रंजीत रंजन ने इस मुद्दे पर सरकार पर निशाना साधा. रंजीत रंजन ने तेजस्वी का बचाव करते हुए कहा, इतनी बड़ी घटना पर विपक्ष हाथ पर हाथ धरे नहीं रह सकता. कांग्रेस की पूर्व सांसद ने मुख्य अभियुक्त की फांसी की मांग की. मधुबनी की घटना को लेकर सियासत पहले से ही चरम पर है. अब तेजस्वी यादव के दौरे के बाद इस घटना पर सियासत और तेज हो गई है.







Source by [author_name]

Avatar

Leave a Reply