Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

सोनू सूद ने हाल ही में एक ट्वीट क‍िया है. (Photo- @sonusood/Twitter)


सोनू सूद ने हाल ही में एक ट्वीट क‍िया है. (Photo- @sonusood/Twitter)

बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर का रहने वाला 23 वर्षीय आशीष कुमार सिंह ने खुद को सोशल मीडिया पर एक्‍टर सोनू सूद (Sonu Sood) का सलाहकार बता रखा है. ये लोगों से मदद के नाम पर पैसे की ठगी कर रहा था. इसे मुंबई में ग‍िरफ्तार क‍िया गया है.

साल 2020 में सोनू सूद (Sonu Sood) कई गरीबों और जरूरतमंदों के ल‍िए मसीहा बनकर उभरे. सोनू ने जो लोगों की मदद करने का प्रण ल‍िया उसे अब भी वह लगातार न‍िभा रहे हैं और हजारों लोगों की अपनी चैर‍िटी की माध्‍यम से मदद कर रहे हैं. लेकिन इस बीच एक शख्‍स सोनू सूद का मैनेजर बनकर लोगों से ठगी करता हुआ पकड़ा गया है. बिहार के मुजफ्फरपुर का रहने वाला 23 वर्षीय आशीष कुमार सिंह को शनिवार को साइबराबाद पुलिस की साइबर क्राइम यूनिट ने गिरफ्तार कर लिया है. इस शख्‍स ने खुद को अपने ट्व‍िटर पर बायो में सोनू सूद का सलाहकार बता रखा है और लोगों से पैसे की ठगी की है.र‍िपोर्ट के अनुसार आरोपी ने अभिनेता सोनू सूद के नाम से मदद का वादा करके तेलंगाना के एक व्यक्ति को कथित रूप से धोखा दिया है. पुलिस की जांच में सामने आया है कि आरोपी ने ट्व‍िटर पर खुद को सोनू सूद का सलाहकार बता रखा है. सोनू सूद ने इस धोखे के बाद एक बार फ‍िर लोगों से धोखा न करने की बात कही है.

शिकायतकर्ता ने तीन मार्च को पुलिस से संपर्क किया. यह व्‍यक्ति अपने राज्य तेलंगाना में कुछ जरूरतमंद लोगों की मदद करना चाहता था. उसे पता चला की सूद भी लोगों की मदद करते हैं. ऐसे में उसने सूद की चैरिटी कंपनी के नंबर का पता लगाना शुरू किया तो उसे एक नंबर म‍िला ज‍िसपर उसने कॉल किया.रज‍िस्‍ट्रेशन फीस के नाम पर मांगे 60,000
पुलिस को तेलंगाना निवासी शिकायतकर्ता ने बताया कि कॉल उठाने वाले शख्स ने खुद को सोनू सूद की मदद करने वाली चैरिटी कंपनी का सलाहकार बताया. उसने तेलंगाना के व्यक्ति को मदद करने का आश्वासन देते हुए कहा कि सूद अपनी किटी से 50 हजार रुपये तक का दान देंगे, लेकिन इसके बदले उन्हें पंजीकरण शुल्क के रूप में 8 हजार 300 रुपये देने होंगे. वहीं, इसके कुछ दिनों बाद आरोपी ने तेलंगाना में उस व्यक्ति को फोन कर कहा कि सूद ने अब मदद के लिए 3 लाख 60 हजार रुपये की सहायता देने का फैसला किया है, लेकिन इसके लिए 60 हजार रुपये का रज‍िस्‍ट्रेशन फीस देनी होगी.

सोनू कर चुके हैं फ्रॉड न करने की अपील
इतनी बड़ी रकम की मांग पर श‍िकायतकर्ता को शक हुआ और उसने पुलिस में श‍िकायत की. पुल‍िस ने आरोपी को ग‍िरफ्तार कर ल‍िया है. बता दें कि सोनू इससे पहले ही अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जर‍िए उनके नाम पर धोखा न करने की अपील कर चुके हैं. इतना ही नहीं, सोनू ने अपनी अपील में यहां तक कहा था कि अगर धोखा करने वाले को पैसे की जरूरत है तो वह उन्‍हें नौकरी द‍िला सकते हैं, पर कोई मदद के नाम पर धोखा न करे.







Source by [author_name]

Avatar

Leave a Reply