Domain Registration ID: D414400000002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

नई दिल्‍ली. देश में बढ़ रहे कोरोना वायरस संकट (Coronavirus) की रोकथाम के लिए सरकार विभिन्‍न स्‍तर पर पर्सनल प्रोटेक्‍टिव एक्विपमेंट (PPE) सूट खरीद रही है. इसके लिए देश-विदेश की कई कंपनियों को ऑर्डर भी दिए जा चुके हैं. इस बीच स्‍वदेशी कंपनियां जोरशोर से मास्‍क और पीपीई सूट बनाने में जुटी हैं. इसी क्रम में इंडो तिब्‍बतन बॉर्डर पुलिस (ITBP) फोर्स ने बेहद सस्‍ते पीपीई सूट और मास्‍क बनाने में सफलता पाई है.
आईटीबीपी प्रवक्ता विवेक पांडे के अनुसार, आईटीबीपी भी कोरोना की लड़ाई में काफी सक्रिय हैं। लोगों को राशन वितरण करने की बात हो या उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में जागरूक करने की, आईटीबीपी के अधिकारी और जवान इस मामले में फ्रंट फुट पर हैं।
नई दिल्‍ली स्थित सबोली में आईटीबीपी के एसएस बटालियन सेंटर में इन पीपीई सूट और मास्‍क (Mask) को बनाया जा रहा है. इनकी कीमत भी काफी कम है. आईटीबीपी की ओर से बनाए पीपीई सूट की कीमत 100 रुपये है. जबकि तीन लेयर वाले मास्‍क की कीमत मात्र 5 रुपये है. आईटीबीपी ने इन दोनों उत्‍पाद को दिल्‍ली के एम्‍स में भी प्रदर्शित किया.
आईटीबीपी का कहना है इसका मकसद क्‍वारंटीन सेंटर और अस्‍पतालों में कोरोना मरीजों व संदिग्‍धों के इलाज में जुटे डॉक्‍टरों और अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को कम कीमत पर कोरोना वायरस संक्रमण से सुरक्षा मुहैया कराना है. उसके अनुसार इन उत्‍पादों की कीमत भले ही कम है, लेकिन इनकी गुणवत्‍ता बेहद अच्‍छी है.
आईटीबीपी ने शुरू में अपने क्वारंटाइन सेंटर और अस्पतालों में इसकी आपूर्ति प्रारम्भ कर दी है। इसके बाद दूसरी जगह पर इनकी सप्लाई की जा सकती है।.
सुप्रीम कोर्ट ने भी दिया है निर्देश
कोविड-19 महामारी के खिलाफ जंग में डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को देश की रक्षा करने वाली अग्रिम पंक्ति बताते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को केन्द्र को निर्देश दिया कि महामारी से ग्रस्त मरीजों का इलाज कर रहे चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिये उचित व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) सुनिश्चित किया जाए.

SD TV (JAIN TV)

SD TV (MOVIE & ENTERTAINMENT)

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*