Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

[ad_1]

  • Hindi News
  • International
  • There Was 22 Thousand Liters Produced In 40 Earthen Pots At One Time, 5000 Years Ago, The Narmer Dynasty Ruled.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कायरो17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
खुदाई में बीयर बनाने की 8 बड़ी-बड़ी यूनिट्स मिली हैं। एक यूनिट की लंबाई करीब 65 फीट और चौड़ाई करीब 8 फीट है। - Dainik Bhaskar

खुदाई में बीयर बनाने की 8 बड़ी-बड़ी यूनिट्स मिली हैं। एक यूनिट की लंबाई करीब 65 फीट और चौड़ाई करीब 8 फीट है।

मिस्र के सबसे पुराने शहर अबाइडौस में दुनिया की सबसे पुरानी बीयर फैक्ट्री मिली है। अमेरिका और इजिप्ट के ऑर्कियोलॉजिस्ट ने दावा किया है कि यह फैक्ट्री 5000 साल पुरानी है। यहां मिट्‌टी के बेसिन (टंकियों) में एक बार में करीब 22 हजार लीटर बीयर बनाई जाती थी। तब नार्मर राजवंश यहां के शासक थे।

ऑर्कियोलॉजिस्ट्स को खुदाई में बीयर बनाने की 8 यूनिट्स मिली हैं। हर यूनिट की लंबाई करीब 65 फीट और चौड़ाई करीब 8 फीट के आसपास है। एक यूनिट में बीयर बनाने के लिए मिट्‌टी के 40 बेसिन का इस्तेमाल किया जाता था।

यहां मिट्‌टी के बेसिन में एक बार में करीब 22 हजार लीटर बीयर बनाई जाती थी।

यहां मिट्‌टी के बेसिन में एक बार में करीब 22 हजार लीटर बीयर बनाई जाती थी।

मंदिरों के लिए मशहूर है अबाइडौस शहर
ऑर्कियोलॉजिस्ट ने अबाइडौस शहर में खुदाई की थी। इस शहर को प्राचीन मंदिरों और पुरातत्व खोजों के लिए जाना जाता है। यह शहर नील नदी के दक्षिणी हिस्से में रेगिस्तान में मौजूद है। जो कायरो शहर से करीब 450 किलोमीटर दूर है। एक वक्त यह शहर पर्यटकों से गुलजार रहता था। साल 2011 के बाद राजनीतिक उथल-पुथल के कारण इस शहर में हालात काफी खराब हो गए।

ऑर्कियोलॉजिस्ट ने अबाइडौस शहर के इसी जगह खुदाई की। यह शहर प्राचीन मंदिरों के लिए मशहूर है। इसे पुरातत्व खोजों के लिए भी जाना जाता है।

ऑर्कियोलॉजिस्ट ने अबाइडौस शहर के इसी जगह खुदाई की। यह शहर प्राचीन मंदिरों के लिए मशहूर है। इसे पुरातत्व खोजों के लिए भी जाना जाता है।

बलि प्रथा वाले इलाके में बनी हो सकती है फैक्ट्री
खोज के को-डायरेक्टर और इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट, न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी के डॉ. मैथ्यू एडम्स के मुताबिक, प्राचीन मिस्र में राजशाही ठाठ के लिए इस बीयर फैक्ट्री को बनाया गया होगा। फैक्ट्री का निर्माण शायद उस इलाके में किया गया, जहां बलि दी जाती थी। उस वक्त हो सकता है शराब पी जाती हो।

इससे पहले ब्रिटिश ऑर्कियोलॉजिस्ट ने 1900 ईस्वी में इस बीयर फैक्ट्री का जिक्र अपनी किताब में किया था। हालांकि वह इसकी सटीक लोकेशन नहीं बता पाए थे।

[ad_2]

Source by [author_name]

Avatar

Leave a Reply