प्रतीकात्मक तस्वीर

[ad_1]

प्रतीकात्मक तस्वीर
– फोटो : सोशल मीडिया

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

झारखंड की राजधानी रांची से पति पत्नी और वो का एक अजीबो-गरीब मामला लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। यहां एक पति को उसकी पत्नी और प्रेमिका के बीच बांट दिया गया है। 

एक समझौते के मुताबिक पति को सप्ताह में तीन दिन अपनी पत्नी के साथ तो तीन दिन प्रेमिका के साथ रहने के लिए कहा गया। इसके अलावा हफ्ते का बचा हुआ एक दिन युवक को खुद के हिसाब से बिताने की मंजूरी मिली। हालांकि, यह सिलसिला ज्यादा दिनों तक नहीं चल सका।

दरअसल, पहले से शादीशुदा शख्स ने एक लड़की को प्रेम जाल में फंसाकर दूसरी शादी कर ली थी। यह मामला पुलिस तक पहुंच गया। ऐसे में पुलिस वालों को शख्स की दोनों पत्नियों के बीच समझौता कराने के लिए यह अजीब तरकीब सूझी और उन्होंने दोनों पत्नियों के बीच शख्स का बंटवारा करा दिया।

हालांकि, इसके कुछ ही दिनों में यह मामला अदालत तक भी पहुंच गया। ऐसे में कोर्ट ने शख्स के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया। अब शख्स की पहली और दूसरी, दोनों ही पत्नियां उसे बचाने के लिए संघर्ष कर रही हैं।

यह पूरा मामला रांची के कोकर तिरिल रोड का है। यहां के निवासी राजेश महतो को पुलिस 15 जनवरी 2020 को सदर थाना ले आई थी। तब पुलिस ने तरकीब निकाली की महतो तीन दिन पहली पत्नी और तीन दिन दूसरी पत्नि के साथ रहेगा, लेकिन यह समझौता अधिक दिनों तक नहीं टिक पाया।

असल में  राजेश महतो की दूसरी पत्नी ने उस के खिलाफ शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने का केस दर्ज करा दिया। इसके बाद यह मामला कोर्ट तक पहुंच गया। ऐसे में अदालत ने महतो के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया और अब पुलिस उसे गिरफ्तार करने के लिए तलाश रही है।

पुलिस ने बताया कि राजेश महतो पहली पत्नी और बच्चे को छोड़कर प्रेमिका संग फरार हो गया था। पत्नी ने इसकी शिकायत सदर थाने में दर्ज कराई थी। उधर प्रेमिका के परिवार वालों ने भी राजेश पर बेटी को अगवा करने का केस दर्ज कराया था। 

इसके बाद सदर थाने की पुलिस ने राजेश और उसकी प्रेमिका को खोज निकाला। दोनों ने शादी कर ली थी। ऐसे में पुलिस उन्हें थाने ले लाई। थाने में दोनों पत्नियों के बीच झगड़ा शुरू हो गया, तो पुलिस ने राजेश का बंटवारा कर दोनों के बीच लिखित तौर पर समझौता कराया था और इसकी कॉपी दोनों को उपलब्ध कराई थी।

झारखंड की राजधानी रांची से पति पत्नी और वो का एक अजीबो-गरीब मामला लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। यहां एक पति को उसकी पत्नी और प्रेमिका के बीच बांट दिया गया है। 

एक समझौते के मुताबिक पति को सप्ताह में तीन दिन अपनी पत्नी के साथ तो तीन दिन प्रेमिका के साथ रहने के लिए कहा गया। इसके अलावा हफ्ते का बचा हुआ एक दिन युवक को खुद के हिसाब से बिताने की मंजूरी मिली। हालांकि, यह सिलसिला ज्यादा दिनों तक नहीं चल सका।

दरअसल, पहले से शादीशुदा शख्स ने एक लड़की को प्रेम जाल में फंसाकर दूसरी शादी कर ली थी। यह मामला पुलिस तक पहुंच गया। ऐसे में पुलिस वालों को शख्स की दोनों पत्नियों के बीच समझौता कराने के लिए यह अजीब तरकीब सूझी और उन्होंने दोनों पत्नियों के बीच शख्स का बंटवारा करा दिया।

हालांकि, इसके कुछ ही दिनों में यह मामला अदालत तक भी पहुंच गया। ऐसे में कोर्ट ने शख्स के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया। अब शख्स की पहली और दूसरी, दोनों ही पत्नियां उसे बचाने के लिए संघर्ष कर रही हैं।

यह पूरा मामला रांची के कोकर तिरिल रोड का है। यहां के निवासी राजेश महतो को पुलिस 15 जनवरी 2020 को सदर थाना ले आई थी। तब पुलिस ने तरकीब निकाली की महतो तीन दिन पहली पत्नी और तीन दिन दूसरी पत्नि के साथ रहेगा, लेकिन यह समझौता अधिक दिनों तक नहीं टिक पाया।

असल में  राजेश महतो की दूसरी पत्नी ने उस के खिलाफ शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने का केस दर्ज करा दिया। इसके बाद यह मामला कोर्ट तक पहुंच गया। ऐसे में अदालत ने महतो के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया और अब पुलिस उसे गिरफ्तार करने के लिए तलाश रही है।
पुलिस ने बताया कि राजेश महतो पहली पत्नी और बच्चे को छोड़कर प्रेमिका संग फरार हो गया था। पत्नी ने इसकी शिकायत सदर थाने में दर्ज कराई थी। उधर प्रेमिका के परिवार वालों ने भी राजेश पर बेटी को अगवा करने का केस दर्ज कराया था। 

इसके बाद सदर थाने की पुलिस ने राजेश और उसकी प्रेमिका को खोज निकाला। दोनों ने शादी कर ली थी। ऐसे में पुलिस उन्हें थाने ले लाई। थाने में दोनों पत्नियों के बीच झगड़ा शुरू हो गया, तो पुलिस ने राजेश का बंटवारा कर दोनों के बीच लिखित तौर पर समझौता कराया था और इसकी कॉपी दोनों को उपलब्ध कराई थी।

[ad_2]

Source by [author_name]

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *