Home

[ad_1]

वृंदावन (मथुरा). उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) रविवार को मथुरा वृंदावन पहुंचे, जहां उन्होंने यहां बांके बिहारी के दर्शन करने के बाद मथुरा (Mathura) के विकास के लिए 411 करोड़ रुपए की सौगात दी और कई योजनाओं का शिलान्यास तथा लोकार्पण किया. इस अवसर पर सीएम योगी ने वृंदावन के टूरिस्ट सेंटर में दूरदराज से आए संतों को अपने हाथों से भोजन भी परोसा. फिर मंच से संतों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बृज क्षेत्र के विकास के लिए तीर्थ विकास परिषद का उन्होंने गठन किया है. वृंदावन जिस सम्मान का हकदार है, वह सम्मान उसे और पूरे तीर्थ क्षेत्र को प्राप्त हो इसके लिए आपका सानिध्य ऐसे ही बना रहे.सीएम ने इस दौरान वैष्णव बैठक मेले का ध्वजारोहण किया. वैष्णवी कुंभ/ दिव्य कुंभ 16 फरवरी से शुरू होने जा रहा है. यह कुंभ 25 मार्च तक चलेगा. योगी ने इस कार्यक्रम में शामिल होने को लेकर अपनी खुशी का इजहार भी किया. उन्होंने संतों की भावनाओं के प्रति भारत का समग्र विकास होगा. अब हमे बृज क्षेत्र को एक नया स्‍वरूप देना है. बृज क्षेत्र के विकास को दुनिया के सामने एक उदाहरण के रूप में प्रस्‍तुत करना है. यह अवसर हमें मिला है.

UP Panchayat Chunav: शिवपाल यादव बोले- ग्राम प्रधानी के चुनाव में प्रत्याशी नहीं उतारेगी प्रसपा

जब तक गोसेवा का कार्य बृज क्षेत्र में होगा, तब तक यह क्षेत्र भगवान कृष्‍ण का आशीर्वाद से धन्‍य होता रहेगा. मै खुशनसीब हूं कि यह मौका मुझे मिला है. मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि वैष्‍णव बैठक वास्‍तव में वृंदावन कुंभ का ही स्‍वरूप है. ये मेरा सौभाग्‍य है कि मुझे संतो का सानिध्‍य प्राप्‍त हो रहा है. कुंभ स्थल पर आयोजित सभा में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वैष्णव कुंभ का जब प्रस्ताव आया था, तब कोरोना वैश्विक महामारी चल रही थी. उस समय सोच रहा था कि हम पर्व और त्योहार कैसे मनाएंगे. उन्होंने कहा कि हम आभारी हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के, जिनके नेतृत्व में कोरोना महामारी की लड़ाई को हमने जीत लिया है.



[ad_2]

Source by [author_name]

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *