Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
मुख्तार अंसारी के दोनों बेटे उमर व अब्बास अंसारी।

[ad_1]

मुख्तार अंसारी के दोनों बेटे उमर व अब्बास अंसारी।
– फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

हजरतगंज पुलिस ने मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के दोनों बेटो को निगरानी में रखा है। दोनों को थाने में रखकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस के मुताबिक दोनों ने कोर्ट से अरेस्ट स्टे  ले रखा है। वह अपना बयान दर्ज करा रहे हैं। बयान दर्ज कराने के बाद उच्चाधिकारियों के निर्देश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।हजरतगंज थानाक्षेत्र के डालीबाग में जालसाजी व साजिश कर जमीन पर अवैध कब्जा करने का मुकदमा अगस्त 2020 में दर्ज किया गया था। पुलिस ने यह कार्रवाई लेखपाल की तहरीर पर की थी। जियामऊ के लेखपाल सुरजन लाल की तहरीर में आरोप लगा था कि डालीबाग की जिस जमीन पर मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों अब्बास अंसारी व उमर अंसारी के नाम से टॉवर बनाया गया था। वह जमीन मो. वसीम की थी। वसीम पाकिस्तान चले गये थे।

इसके बाद संपत्ति निष्क्रांत के रुप में दर्ज हो गई थी। इस जमीन को हासिल करने के लिए मुख्तार अंसारी व उनके बेटों ने कूटरचित दस्तावेज तैयार किये। इसके बाद जमीन पर दो टॉवरों का निर्माण कराया। जमीन 14 अगस्त 2020 को जांच के बाद निष्क्रांत घोषित कर दी गई। पुलिस ने लेखपाल की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया था। इस मामले की जांच की जा रही है। इसी दौरान अवैध कब्जा हटवाने के लिए दोनों टॉवरों को जमींदोज कर दिया गया था।

मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस ने बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों की गिरफ्तारी के लिए कई जगह दबिश दी, लेकिन वह फरार हो गये। इसके बाद पुलिस ने दोनों के खिलाफ 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया।

इसके बाद भी पुलिस का दावा था कि उनकी तलाश की जा रही है लेकिन यह दावा सिर्फ कागजी ही रहा। इस दौरान दोनों आत्मसमर्पण करने की जुगत में लगे रहें। पुलिस के मुताबिक दोनों ने कोर्ट से अरेस्ट स्टे हासिल कर लिया है।

अब्बास ने जयपुर में रचाई शादी
बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के जिन बेटों की तलाश हजरतगंज पुलिस कर रही थी। उनमें से बडे़ बेटे अब्बास अंसारी ने जनवरी के अंतिम सप्ताह में जयपुर जाकर शादी रचा ली। इसकी जानकारी पुलिस को सोशल मीडिया पर वायरल हुए फोटो से हुई। इसके बाद पुलिस की सक्रियता बढ़ी लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। इसी बीच दोनों को कोर्ट से स्टे मिल गया। जिसके बाद पुलिस सिर्फ हाथ मलती रह गई।

प्रभारी निरीक्षक हजरतगंज श्याम बाबू शुक्ला के मुताबिक दोनों ने कोर्ट से अरेस्ट स्टे ले लिया है। पुलिस का दबाव पड़ने पर दोनों अपना बयान दर्ज कराने आये हैं। पूछताछ की जा रही है। दोनों पुलिस की निगरानी में हैं।

हजरतगंज पुलिस ने मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के दोनों बेटो को निगरानी में रखा है। दोनों को थाने में रखकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस के मुताबिक दोनों ने कोर्ट से अरेस्ट स्टे  ले रखा है। वह अपना बयान दर्ज करा रहे हैं। बयान दर्ज कराने के बाद उच्चाधिकारियों के निर्देश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

हजरतगंज थानाक्षेत्र के डालीबाग में जालसाजी व साजिश कर जमीन पर अवैध कब्जा करने का मुकदमा अगस्त 2020 में दर्ज किया गया था। पुलिस ने यह कार्रवाई लेखपाल की तहरीर पर की थी। जियामऊ के लेखपाल सुरजन लाल की तहरीर में आरोप लगा था कि डालीबाग की जिस जमीन पर मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों अब्बास अंसारी व उमर अंसारी के नाम से टॉवर बनाया गया था। वह जमीन मो. वसीम की थी। वसीम पाकिस्तान चले गये थे।

इसके बाद संपत्ति निष्क्रांत के रुप में दर्ज हो गई थी। इस जमीन को हासिल करने के लिए मुख्तार अंसारी व उनके बेटों ने कूटरचित दस्तावेज तैयार किये। इसके बाद जमीन पर दो टॉवरों का निर्माण कराया। जमीन 14 अगस्त 2020 को जांच के बाद निष्क्रांत घोषित कर दी गई। पुलिस ने लेखपाल की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया था। इस मामले की जांच की जा रही है। इसी दौरान अवैध कब्जा हटवाने के लिए दोनों टॉवरों को जमींदोज कर दिया गया था।


आगे पढ़ें

पुलिस ने घोषित किया था 25-25 हजार का इनाम

[ad_2]

Source by [author_name]

Avatar

Leave a Reply