Home

[ad_1]

प्रयागराज. माघ मेले (Magh Mela 2021) के चौथे प्रमुख स्नान पर्व बसंत पंचमी को लेकर मेला प्रशासन ने भी सभी तैयारियां पूरी करने का दावा किया है. मेला प्रशासन ने लगभग 25 लाख श्रद्धालुओं के संगम में आस्था की डुबकी लगाने का अनुमान लगाया है. 641.5 बीघे में बसाए गए माघ मेले को दो जोन और पांच सेक्टरों में बांटा गया है. इसके साथ ही मेले में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए 8 हजार वर्ग फीट की लम्बाई में 17 स्नान घाट बनाये गए हैं. माघ मेले में कुम्भ (Kumbh) की ही तर्ज पर स्नान घाटों पर डीप वाटर बैरिकेडिंग, जाल और रेत भरकर बोरियां लगायी गई हैं.इसके साथ ही स्नान के बाद घाटों पर निकलने वाले श्रद्धालुओं के लिए कांसा घास भी बिछायी गई है. जबकि महिलाओं के लिए सैकड़ों की तादात में स्नान घाटों पर चेंजिंग रुम भी बनाये गए हैं. इसके अलावा मेला प्रशासन ने बसंत पंचमी के स्नान पर्व को लेकर सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम का दावा किया है. मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को देखते हुए पुलिस ने मेले में ट्रैफिक डायवर्जन भी एक दिन पहले से ही लागू कर दिया है. बसंत पंचमी स्नान पर्व को लेकर सभी विभाग के कर्मचारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए गए हैं. इलाहाबाद हाईकोर्ट के निर्देश पर कोविड गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराने के लिए गठित टास्क फोर्स भी मेले में क्रियाशील है. इसके साथ ही सोशल मीडिया से लेकर ड्रोन और सीसीटीवी कैमरों की भी मेले की निगरानी की जा रही है. इसके साथ ही मेले में लगाये गए पब्लिक एड्रेस सिस्टम से भी लगातार अनाउन्स की व्यवस्था की गई है. मेले में बनाए गए स्नान घाटों पर डीप वाटर बैरिकेडिंग के साथ ही जल पुलिस और एसडीआरएफ को भी तैनात किया गया है.

ऐसी रही मेला की सुरक्षा

मेला प्रशासन के मुताबिक, सुरक्षा के दृष्टिगत मेला क्षेत्र में लगभग पांच हजार पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है. इसके अलावा मेला क्षेत्र में लगभग 120 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, जिसकी मॉनिटरिंग कंट्रोल रुम के जरिए की जा रही है. ड्रोन कैमरे से भी मेला क्षेत्र की हर गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है. साथ ही मेले में बनाये गए 16 एंट्री प्वांट्स पर गाड़ियों का मेले में प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया है.

मेले की सुरक्षा में एटीएस के कमांडों के साथ ही सुरक्षा एजेंसियों एलआईयू और आईबी को भी लगाया गया है. वहीं, बसंत पंचमी के स्नान पर्व को लेकर एक दिन पहले ही श्रद्धालु संगम तट पर पहुंच रहे हैं. हजारों श्रद्धालुओं ने संगम के तट पर डेरा जमा लिया है और मंगलवार को ब्रह्म मुहूर्त में बसंत पंचमी का स्नान कर पुण्य लाभ अर्जित कर अपने घरों को लौटेंगे.



[ad_2]

Source by [author_name]

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Fatal error: Uncaught Error: Call to undefined function WP_Optimize() in /home/mkq8cfnlftsy/public_html/wp-content/plugins/wp-optimize/cache/file-based-page-cache-functions.php:170 Stack trace: #0 [internal function]: wpo_cache('<!-- ==========...', 9) #1 /home/mkq8cfnlftsy/public_html/wp-includes/functions.php(4755): ob_end_flush() #2 /home/mkq8cfnlftsy/public_html/wp-includes/class-wp-hook.php(287): wp_ob_end_flush_all('') #3 /home/mkq8cfnlftsy/public_html/wp-includes/class-wp-hook.php(311): WP_Hook->apply_filters('', Array) #4 /home/mkq8cfnlftsy/public_html/wp-includes/plugin.php(484): WP_Hook->do_action(Array) #5 /home/mkq8cfnlftsy/public_html/wp-includes/load.php(1052): do_action('shutdown') #6 [internal function]: shutdown_action_hook() #7 {main} thrown in /home/mkq8cfnlftsy/public_html/wp-content/plugins/wp-optimize/cache/file-based-page-cache-functions.php on line 170