Home

[ad_1]

मुजफ्फरपुर। बिहार के मुजफ्फरपुर (मुजफ्फरपुर) जिले में एक व्यक्ति ने एक महिला द्वारा यौन उत्पीडन (यौन उत्पीड़न) का विरोध करने पर उसे तीन महीने की बच्ची को कथित तौर पर धमक दिया। इस घटना में बच्ची झुलस गई है। घटना के बाद महिला ने स्थानीय पुलिस को जानकारी दी। पुलिस से सहयोग नहीं मिलने पर उसने उच्च अधिकारियों की शरण ली, जिसके बाद पुलि (पुलिस) हरकत में आई। पुलिस ने बताया कि वह आरोपी के खिलाफ कार्रवाई कर रही है।महिला का आरोप है कि वह अपने बच्ची को गोद में लेकर बैठी थी। केवल एक व्यक्ति ने उसे गलत हरकत करने की कोशिश की। विरोध किया तो बच्ची को गोद से छीनकर आग में फेंक दिया गया। इसमें बच्ची बुरी तरह से झुलस गई। पुलिस ने बताया कि घटना बोचंदन थाना क्षेत्र में हुई जब महिला अपने घर के बाहर अलाव के पास बैठी थी। उन्होंने बताया कि पुरुष ने महिला के पास बैठकर उसका यौन उत्पीडन करने की कोशिश की, जिसका उसने विरोध किया।

बिहार पंचायत चुनाव: कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारी नहीं लड़ सकते चुनाव, कौन हो सकता है खड़ा, कौन नहीं, जानें पूरी दिटेल

पुलिस ने बताया कि इसके बाद, शख्स ने बच्ची को महिला की गोद से छीन लिया और उसे आग में फेंक दिया, जिससे बच्ची गंभीर रूप से झुलस गई। पुलिस उपाधीक्षक (मुख्यालय) बैद्यनाथ सिंह ने कहा कि घटना के संबंध में एक आलमिकी दर्ज की गई है। अधिकारी ने बताया कि उस व्यक्ति पर आईपीसी की धारा 307, 354, 323 और 341 के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि मामले की जांच चल रही है।

पति ने लगाया ये आरोप
महिला के पति ने आरोप लगाया कि स्थानीय पुलिस स्टेशन ने पहले आलमिकी दर्ज करने से मना कर दिया, जिसके बाद उसने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जयंत कांत से संपर्क किया। एसएसपी के हस्तक्षेप के बाद पुलिस ने जांच शुरू की। आरोपी को तत्काल गिरफ्तार करने का निर्देश दिया गया है।



[ad_2]

Source by [author_name]

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *