Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
Tuesday, May 11

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

Coronavirus In Maharashtra: मुंबई में फिर टीके की कमी, 1 मई तक के लिए रोका गया वैक्सीनेशन


वैक्सीन सेंटर पर लगी कतार (फाइल फोटो)

Coronavirus In Maharashtra: महाराष्ट्र की राजधानी और कोरोना प्रभावित मुंबई में वैक्सीनेशन प्रॉसेस पर रोक लग गई है.

मुंबई. महाराष्ट्र (Coronavirus In Maharashtra) की राजधानी और कोरोना प्रभावित मुंबई में वैक्सीनेशन प्रॉसेस पर रोक लग गई है. प्रशासन की ओर से कहा गया है कि वैक्सीन में कमी की वजह से ऐसा किया गया है. ग्रेटर मुंबई नगर निगम ने कहा कि मुंबई में शुक्रवार को वैक्सीनेशन नहीं होगा. बता दें 1 मई से 18 से 45 वर्षीय नागरिकों का टीकाकरण होना है, लेकिन वैक्सीन की कमी के कारण प्रक्रिया रुकी हुई है. समाचार एजेंसी PTI के अनुसार बृहन्मुंबई नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा, ‘बुधवार की रात हमें बताया गया कि हमें टीके की करीब 75 हजार खुराकें मिलेंगी. इतनी कम आपूर्ति से बीएमसी ने कुछ ही टीकाकरण केंद्र खोले जबकि अन्य केंद्रों को बंद रखा गया.’ महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक देश की वित्तीय राजधानी में बुधवार को केवल 26,610 लोगों को टीका लगा. सप्लाई का करना होगा इंतजार काकानी ने कहा, ‘अगर हमें पर्याप्त आपूर्ति नहीं मिलती है तो हमें अभियान कुछ दिनों के लिए रोकना होगा और पर्याप्त आपूर्ति का इंतजार करना होगा ताकि तेजी से टीकाकरण किया जा सके.’ महानगर में गुरुवार को टीकाकरण केंद्रों के बाहर लंबी कतारें देखी गईं.वहीं, समाचार चैनल एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के अनुसार, BMC ने गुरुवार को एक नोटिस में कहा, ‘मुंबई में टीकाकरण शुक्रवार, 30 अप्रैल, 2021 से रविवार, 2 मई, 2021 तक बंद रहेगा.’ BMC ने कहा कि अगर इस बीच वैक्सीन का स्टॉक मिलता है, तो लोगों सूचित किया जाएगा. टीके मिलने तक 18-44 वर्ष के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान नहीं: टोपे इससे पहले महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने गुरुवार को कहा कि राज्य को कोरोना वायरस रोधी टीके की 25-30 लाख शीशियां जब तक नहीं मिल जाती तब तक 18-44 वर्ष की उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू नहीं किया जाएगा.

टोपे ने कहा कि टीकाकरण अभियान शुरू करने के लिए कम से कम पांच दिन का पर्याप्त स्टॉक होना चाहिए. महाराष्ट्र कई बार टीकों की कमी की वजह से टीकाकरण अभियान रोका जा चुका है जो 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए चल रहा है. टोपे ने कहा कि राज्य की क्षमता रोजाना आठ लाख लोगों को टीका लगाने की है.







Source link

Leave a Reply