डीएम के आदेश पर अवैध खनन करने वाले तीन लोगों पर एफआईआर दर्ज, हुई गिरफ्तारी

अवैध खनन करने वालों के ख़िलाफ़ जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही का एक्शन शुरू हो गया है। मीडिया में आई खबर का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने तहसील मनकापुर अंतर्गत थाना छपिया के ग्राम सिंगार घाट में हुए अवैध खनन की खबर का संज्ञान लेते हुए खनन करने वाले महेश कुमार पुत्र पुल्लू व अजय कुमार वर्मा पुत्र माधव प्रसाद के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराते हुए गिरफ्तार करा दिया है।
बताते चलें कि एक न्यूज़ चैनल पर ग्राम सिंगार घाट थाना छपिया जनपद गोंडा में अवैध मिट्टी खनन के समाचार प्रसारण पर डीएम ने एसडीएम मनकापुर व प्रभारी निरीक्षक थाना छपिया को मौके का मुआयना करके रिपोर्ट देने के आदेश दिए थे। एसडीएम के निरीक्षण में यह पाया गया कि महेश कुमार पुत्र पुल्लू निवासी ग्राम तेजपुर थाना छपिया तथा अजय कुमार वर्मा पुत्र माधव प्रसाद निवासी फिरोजपुर थाना सादुल्लाह नगर जनपद बलरामपुर मौके पर मिले तथा वहां पर जेसीबी से खनन कराया पाया गया। निरीक्षण में यह भी तथ्य सामने आया कि दोनों व्यक्तियों द्वारा रात के अंधेरे में जेसीबी से खनन कराया जाता है। इस बाबत एसडीएम मनकापुर हीरालाल यादव ने बताया कि दोनों व्यक्तियों द्वारा बिना प्रशासनिक अनुमति के अवैध रूप से 3341.5 घन मीटर अर्थात 118003.9 घनफुट मिट्टी निकाली गई थी। यही नहीं दोनों व्यक्तियों द्वारा अवैध रूप से निकाली गई मिट्टी को सरकारी सड़क हासिया में बने नाले को पाटकर सार्वजनिक रास्ते को अवरुद्ध कर दिया गया है।
डीएम ने अवैध खनन में लिप्त व्यक्तियों महेश कुमार पुत्र पुल्लू, पुल्लू पुत्र रामदीन निवासी ग्राम तेजपुर थाना छपिया व अजय कुमार वर्मा पुत्र माधव प्रसाद निवासी ग्राम फिरोजपुर थाना सादुल्लाह नगर जनपद बलरामपुर के खिलाफ थाना छपिया में एफआईआर दर्ज कराते हुए गिरफ्तारी करा दी है।
डीएम मार्कंडेय शाही ने स्पष्ट चेतावनी दी है कि जनपद में यदि कहीं भी अवैध खनन हुआ तो संबंधित के विरुद्ध कठोर से कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने सभी उप जिलाधिकारियों को यह भी निर्देश दिए हैं कि वे अपनी-अपनी तहसीलों के अंतर्गत यह सुनिश्चित करें कि कहीं भी अवैध खनन व राजस्व की हानि न होने पावे अन्यथा उनकी जिम्मेदारी निर्धारित की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *