Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
Tuesday, May 11

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

डिप्रेशन में रहते हुए अपने मूड को इन 8 तरीकों से करें ठीक


जब आप डिप्रेशन (Depression) में होते हैं तो सब कुछ अधिक चुनौतीपूर्ण लगता है. काम पर जाना, दोस्तों के साथ सोशलाइज होना या फिर बिस्तर से उठना भी एक संघर्ष की तरह लगता है. लेकिन कुछ चीजें हैं जो आप डिप्रेशन के लक्षणों से निपटने और अपने जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए कर सकते हैं. डिप्रेशन में रहने का मतलब अपने मूड को खराब रखना नहीं होता. Verywellmind की खबर के अनुसार आप अवसाद में भी खुद को खुश रख सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको कुछ खास काम करने होंगे. आइए आपको बताते हैं डिप्रेशन के साथ रहकर अपने मूड को ठीक रखने के 8 तरीकों के बारे में. एक सपोर्ट नेटवर्क तैयार करें सबसे अहम चीजों में से एक है कि डिप्रेशन से बाहर निकले के लिए खुद की ही मदद करनी होगी. दवा और इलाज के अलावा मजबूत सामाजिक सपोर्ट सिस्टम तैयार करना होगा. कुछ लोगों के लिए सामाजिक सपोर्ट सिस्टम तैयार करने का मतलब दोस्तों या परिवार के साथ मजबूत संबंध बनाना हो सकता है. आप अपने प्रियजनों को अपने डिप्रेशन को ठीक करने की दिशा में मदद में ला सकते हैं. वहीं कुछ के लिए ये एक डिप्रेशन सपोर्ट ग्रुप के रूप में हो सकती है. इसमें एक समुदाय समूह शामिल हो सकता है जो आपके इलाके में ही मौजूद हो या आपको एक ऑनलाइन सपोर्ट ग्रुप भी मिल सकता है. इसे भी पढ़ेंः कोरोना काल में इन चीजों को छूने के बाद जरूर धोएं हाथ, नहीं तो हो सकती है गंभीर समस्याअपने स्ट्रेस को कम करें जब आप तनाव में होते हैं, तो आपका शरीर कोर्टिसोल नामक हॉर्मोन का अधिक उत्पादन करता है. यह अच्छी बात है क्योंकि यह आपको अपने जीवन में तनाव पैदा करने वाले चीजों से निपटने में मदद करता है. हालांकि लंबे समय तक ऐसा होना आपके लिए कई समस्याओं का कारण बन सकता है, जिनमें डिप्रेशन भी शामिल है. जितना अधिक आप तनाव को कम करने के लिए तकनीकों का इस्तेमाल करेंगे उतना ही आपके लिए बेहतर होगा क्योंकि यह आपके उदास होने की स्थिति को कम करता है. अच्छी नींद जरूरी
नींद और मूड एक दूसरे से संबंधित होते हैं. साल 2014 के एक स्टडी में पाया गया कि डिप्रेशन से जूझ रहे 80% लोग नींद की गड़बड़ी का अनुभव करते हैं. हालांकि डिप्रेशन में आपको ऐसा लग सकता है कि आप सो नहीं सकते या शायद आप बिस्तर से बाहर निकलने के लिए संघर्ष करते हैं क्योंकि आपको हर समय थकावट महसूस होती रहती है. बिस्तर पर जाने से कम से कम एक घंटा पहले आपके सभी इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पाद बंद कर दें. किताब पढ़ने या किसी अन्य आरामदायाक एक्टिविटी को करने से अच्छी नींद आती है. खाने की आदत को सुधारें डाइट और मेंटल हेल्थ के बीच संबंध खोजने के लिए शोध अभी भी जारी है. अब तक ऐसे कई स्टडीज हुए हैं, जिनमें पोषण में सुधार की बात कही गई है. इसके चलते मानसिक बीमारी को रोका जा सकता है और इसका इलाज भी किया जा सकता है. कई ब्रेन एसेंशियल न्यूट्रिएंट्स ऐसे हैं जो डिप्रेशन को प्रभावित कर सकते हैं. जानें नेगेटिव विचारों को रोकने का तरीका डिप्रेशन सिर्फ आपको बुरा फील ही नहीं कराता बल्कि यह आपको और अधिक नकारात्मक सोचने के लिए मजबूर भी कर सकता है. हालांकि, उन नकारात्मक विचारों को बदलना आपके मूड को बेहतर बना सकता है. कई सेल्फ-हेल्प बुक्स, एप्लिकेशन और ऑनलाइन पाठ्यक्रम भी हैं जो आपकी नेगेटिव सोच को रोकने में मदद कर सकते हैं. बात को टालमटोल न करना डिप्रेशन के लक्षण, जैसे थकान और ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होने से आप किसी भी बात को टालने की कोशिश कर सकते हैं लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए. ऐसे में समय सीमा तय करना और अपना समय अच्छी तरह से प्रबंधित करना बहुत जरूरी है. छोटे लक्ष्यों को स्थापित करें और पहले किए गए सबसे महत्वपूर्ण कार्यों को प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करें. घर का काम करते रहें डिप्रेशन में घर का काम करना मुश्किल लगने लगता है, जैसे कि खाना बनाना या बिजली का बिल भरना. लेकिन कागजों के ढेर, गंदे व्यंजनों के ढेर और गंदे कपड़ों में ढके फर्श केवल आपकी बेकार की चिंताओं को बढ़ाते हैं. अपने दैनिक कामों पर नियंत्रण रखें. छोटे से शुरू करें और एक समय में एक परियोजना पर काम करें. उठना और बढ़ चढ़कर काम करना आपको बेहतर महसूस करने में मदद कर सकता है. इसे भी पढ़ेंः कोरोना काल में ‘तुलसी काढ़ा’ करेगा कमाल, इम्यूनिटी से लेकर शूगर लेवल तक सब रहेगा कंट्रोल वेलनेस टूलबॉक्स बनाएं एक वेलनेस टूलबॉक्स ऐसे उपकरणों का एक सेट है जिसका इस्तेमाल आप अपने आप को शांत करने में मदद करने के लिए कर सकते हैं. खासकर तब जब आप लो फील कर रहे हों. अपने पालतू जानवरों को प्यार करना, अपना पसंदीदा म्यूजिक सुनना, हॉट बाथ लेना या एक अच्छी किताब पढ़ना कुछ ऐसे उपकरण हैं जो आपको डिप्रेशन से निकले में मदद कर सकते हैं.



Source link

Leave a Reply