Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
Tuesday, May 11

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

1 मई से वैक्सीनेशन का चौथा चरण: 18+ के टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, मगर जानकारी अधूरी; पहले दिन किसी को स्लॉट नहीं मिला तो किसी को सेंटर का पता नहीं चला


  • Hindi News
  • National
  • Registration Starts For 18+ Vaccination, But Information Incomplete; Nobody Found The Center If Nobody Got The Slot

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कोविन पोर्टल पर शाम 7 बजे तक 5 करोड़ लोग पहुंचे, तबतक 79.65 लाख का लोगों का ही हो पाया रजिस्ट्रेशन। (फाइल फोटो)

कोविन पोर्टल पर बुधवार शाम 4 बजे से 18 से 44 साल के लोगों के टीकाकरण का रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया। मगर आगाज के साथ ही अभियान को पहले ही दिन कई दिक्कतों का सामना करना पड़ा। शुरुआती दो घंटे में ही 5 करोड़ लोग Cowin.gov.in पर रजिस्ट्रेशन कराने पहुंच गए। इससे सर्वर क्रैश हुआ तो लोगों दिक्कतों का सामना करना पड़ा। हालांकि केवल शाम 7 बजे तक 79.65 लाख लोगों का रजिस्ट्रेशन हो पाया।

जिनका रजिस्ट्रेशन हो भी गया, उनमें से ज्यादातर को पूरी जानकारी नहीं मिली। कई लोगों को टीकाकरण की तारीख नहीं बताई गई। तो कई को मई के बजाय अगस्त की तारीख मिली। जिन्हें तारीख मिली उनमें से कई को ये नहीं बताया गया कि उन्हें किस सेंटर पर कौन सी वैक्सीन मिलेगी। सरकारी सूत्रों ने बताया कि कई राज्यों ने अभी सेंटर्स की सूची, वैक्सीन उपलब्धता की जानकारी नहीं दी है।

अपॉइंटमेंट भी प्राइवेट और राज्य सरकार के सेंटर्स की उपलब्धता पर मिलेगा

  • सरकार ने सबसे पहले जानकारी देते हुए बताया था कि रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 28 अप्रैल से शुरु होगी। लेकिन किसी तरह का समय निर्धारित नहीं किया था। ऐसे में लोगों ने 27 अप्रैल की रात 12 बजे के बाद से ही कोविन पोर्टल, आरोग्य सेतु या उमंग ऐप पर रजिस्ट्रेशन की कोशिशें शुरू कर दीं। लेकिन रजिस्ट्रेशन तब शुरू हो नहीं पाया था। इसके बाद लोग सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा जाहिर करने लगे।
  • इसके बाद 28 फरवरी को सुबह सरकार की तरफ से समय को लेकर जानकारी दी गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया था कि 18 साल से ज्यादा आयु वाले सभी नागरिक कोविड -19 की वैक्सीन लगवाने के लिए चार बजे से कोविन पोर्ट्ल या आरोग्य सेतु से रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।
  • मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि वैक्सीन लगाने के लिए समय लेना जरूरी होगा। सीधे आकर वैक्सीन लगाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। अपॉइंटमेंट भी प्राइवेट और राज्य सरकार के सेंटर्स की उपलब्धता के आधार पर ही मिलेगा। यानी राज्यों में एक मई को वैक्सीनेशन के लिए तैयार सेंटर्स के आधार पर ही लोगों को अपॉइंटमेंट दिया जाएगा।

हर मिनट 27 लाख लोग साइट्स पर मौजूद थे

  • रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू होते ही साइट्स और आरोग्य सेतु एप क्रैश हो गई। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो हर मिनट 27 लाख लोग COWIN और आरोग्य सेतु एप पर लॉग इन थे।

सरकार ने कहा- जल्द स्लॉट्स उपलब्ध कराए जाएंगे

  • मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकारी सूत्रों ने बताया है कि जल्द पंजीकृत लोगों को स्लॉट्स दिए जाएंगे। अगर स्लॉट्स नहीं दिए जाते हैं, तो उसे चेक करते रहें।

वैक्सीनेशन के लिए फिलहाल भारत की दो वैक्सीन का उपयोग

  • भारत में वैक्सीन के लिए सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशिल्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन का इस्तेमाल किया जा रहा है। जल्द रूस की स्पूतनिक-5 का उपयोग किया जाएगा।

कोविन के नाम पर चल रहे फेक लिंक

  • कोविन पर 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन के लिए https://selfregistration.sit.co-vin.in/ जैसे कुछ फेक लिंक भी चल रहे हैं। हालांकि, सरकार साफ कर चुकी है कि इसके लिए रजिस्ट्रेशन सिर्फ कोविन, आरोग्य सेतु और उमंग ऐप पर होंगे।

सीरम अब राज्यों को 400 के बजाय 300 रु. में देगा एक डोज

  • सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने राज्याें के लिए कोविशील्ड वैक्सीन का दाम 400 रुपए से घटाकर 300 रुपए प्रति डाेज कर दिया है। हालांकि यह अब भी केंद्र के लिए तय कीमत 150 रुपए प्रति डोज से दोगुना है।

राज्यों ने वैक्सीन कंपनियों को ऑर्डर तो कर दिए, लेकिन खेप कब तक मिलेगी इसका भरोसा नहीं

राज्यों ने 1 मई से टीकाकरण अभियान के लिए कंपनियों को ऑर्डर तो दिए हैं, मगर अभी यह साफ नहीं है कि कंपनी की ओर से घोषित कीमत पर ही वैक्सीन मिलेगी या राज्यों की कीमतें घटाने की मांग पर कोई कदम उठाया जाएगा। यही नहीं, जो ऑर्डर किए गए हैं वह कंपनियां कब तक डिलीवर करेंगी ये भी स्पष्ट नहीं है। जानिए, बड़े राज्यों की क्या है स्थिति-

  • उत्तर प्रदेश : 18 से 44 वर्ष के लोगों की आबादी 9.15 करोड़ है। सरकार ने 1 करोड़ डोज का ऑर्डर दिया है। मगर यह टुकड़ों में आएगा। तिथि तय नहीं है।
  • झारखंड :18 से 44 वर्ष के लोगों की आबादी 1.57 करोड़ है। सरकार ने 50 लाख डोज का ऑर्डर दिया है। मिलने का समय तय नहीं।
  • गुजरात : 18 से 44 वर्ष के लोगों की आबादी 3.25 करोड़ है। सरकार ने 1.50 करोड़ डोज का ऑर्डर दिया है। मिलने का समय तय नहीं।
  • राजस्थान : 18 से 44 वर्ष के लोगों की आबादी 3.5 करोड़ है। सरकार ने 3.75 करोड़ डोज का ऑर्डर सीरम को दिया। मंत्री भी कह चुके-1 मई को मिलना मुश्किल।
  • छत्तीसगढ़ : 18 से 44 वर्ष के लोगों की आबादी 1.20 करोड़ है। सरकार ने 50 लाख डोज का ऑर्डर दिया है। मिलने का समय तय नहीं है।

महाराष्ट्र को 20 मई तक वैक्सीन नहीं दे पाएंगी कंपनियां, बिहार को देने में असमर्थता जता दी

  • मुंबई में 45+ के लिए भी 47 हजार वाइल का ही स्टॉक, गुरुवार को नहीं होगा टीकाकरण
  • मुंबई में वैक्सीन का पर्याप्त स्टॉक नहीं होने की वजह से गुरुवार को 73 में से 40 केंद्रों पर टीकाकरण नहीं होगा। बाकी 33 प्राइवेट केंद्र पर भी दूसरे डोज वालों को प्राथमिकता दी जाएगी। मुंबई में बुधवार की दोपहर 2 बजे तक ही टीका लगा। उसके बाद सिर्फ 47,740 वायल्स का स्टॉक बचा था।
  • महाराष्ट्र में 18 से 44 साल के लोगों की आबादी 5.71 करोड़ है। सरकार ने करीब 1.30 करोड़ डोज का ऑर्डर दोनों कंपनियों को दिया है। मगर दोनों ने ही 20 मई से पहले देने में असमर्थता जता दी है।
  • बिहार में 18 से 44 साल के लोगों की आबादी 5.47 करोड़ है। सरकार ने 1 करोड़ डोज का ऑर्डर सीरम को दिया। कंपनी ने डिलीवरी में असमर्थता जताई है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply