Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
Tuesday, May 11

Please Play for Watching SD News Live TV (News + Entertainment)

बंगाल विधानसभा चुनाव LIVE: 8वें और आखिरी फेज में 35 सीटों पर आज सुबह 7 बजे से वोटिंग, 283 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोलकाता21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कोलकाता के नेताजी इंडोर स्टेड�

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के 8वें और आखिरी चरण में 35 सीटों पर आज सुबह 7 बजे से वोटिंग शुरू हो जाएगी। इस फेज में 283 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा। मुस्लिम बहुल आबादी वाले जिलों में सबकी नजर अल्पसंख्यक वोटों पर रहेगी। इस हिसाब से देखा जाए तो इस बार ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस (TMC) और कांग्रेस के बीच मुख्य मुकाबला रहने वाला है। पिछले सात फेज में TMC और भाजपा ही आमने-सामने रही हैं।

सुरक्षा के लिए केंद्रीय बलों की 753 कंपनियां
आठवें चरण में हिंसा रोकने के लिए चुनाव आयोग ने केंद्रीय सुरक्षा बल की 753 कंपनियां तैनात की हैं। इसमें सबसे अधिक हिंसा के लिए कुख्यात बीरभूम, मुर्शिदाबाद और मालदा जिले में तैनात की गई है। बीरभूम जिला में सुरक्षा के लिए केंद्रीय सुरक्षा बल की 224 कंपनियां तैनात रहेंगी, मुर्शिदाबाद में 212, मालदा में 110 व कोलकाता उत्तर में 95 कंपनियां तैनात की गई है।

11,860 बूथों पर 84.78 लाख वोटर डालेंगे वोट
इन 35 सीटों के उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला 41 लाख 21 हजार 735 महिला मतदाताओं और 158 ट्रांसजेंडर मतदाताओं समेत 84 लाख 77 हजार 728 मतदाता करेंगे। इनमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 43 लाख 55 हजार 835 है। मतदान गुरुवार सुबह 7 बजे शुरू होगा जो शाम साढ़े 6 बजे तक चलेगा। मतदान के लिए कुल 11,860 बूथ बनाए गए हैं। इनमें बीरभूम में 3908, मालदा में 2073, मुर्शिदाबाद में 3796 और कोलकाता उत्तर में 2083 मतदान केंद्र हैं।

चार जिलों में कांग्रेस और टीएमसी का रहा है दबदबा
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के आठवें चरण में जिन 35 सीट के लिए मतदान होगा, इनमें मालदा की 6, बीरभूम की 11, मुर्शिदाबाद की 11 और कोलकाता नॉर्थ की 7 सीटें शामिल हैं। मालदा और मुर्शिदाबाद में 7वें चरण में भी कुछ सीटों पर वोटिंग हुई थी। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के गृह क्षेत्र मुर्शिदाबाद जिले में माकपा-कांग्रेस-आईएसएफ गठबंधन को अच्छे नतीजों की उम्मीद है।

2016 के नतीजों की बात करें तो इन 35 सीटों में से ममता बनर्जी की पार्टी को जहां 17 सीटें मिली थीं, वहीं कांग्रेस ने 13 सीटों पर विजय हासिल की थी। भाजपा सिर्फ एक सीट ही जीत सकी थी और 3 सीटें भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के खाते में गई थीं। इसके अलावा एक सीट पर निर्दलीय ने जीत दर्ज की थी।

चुनाव आयोग की नई गाइडलाइन: न जीत का जश्न मनेगा, न जुलूस निकलेगा
मद्रास हाईकोर्ट की फटकार के बाद चुनाव आयोग (EC) ने चुनावी कार्यक्रमों में कोरोना प्रोटोकॉल को लेकर सख्ती दिखाई है। आयोग ने 2 मई को आने वाले पांच राज्यों के विधानसभा नतीजों पर एक आदेश दिया है। इसमें कहा गया है कि वोटों की काउंटिंग के दौरान या नतीजे आने के बाद किसी तरह का जुलूस नहीं निकाला जाएगा और न ही जश्न मनाया जाएगा।

नतीजों के बाद कोई भी उम्मीदवार सिर्फ दो लोगों के साथ ही अपनी जीत का सर्टिफिकेट लेने जा सकता है।​​​​​​​ 2 मई को तमिलनाडु, केरल, पुड्डुचेरी, असम और पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव के परिणाम आने हैं।

​​​​​​​

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply