Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

जिला स्तरीय कृषक जागरूकता एवं प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम हुआ सम्पन्न

सह.सम्पादक अतुल जैन की रिपोर्ट


मल्टी लेयर फार्मिंग से किसानों की आय हो सकती है तीन गुना-नाबार्ड डीडीएम


शिवपुरी।
जिला स्तरीय प्रश्नोत्तरी एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम में नाबार्ड के जिला विकास प्रबंधक श्री राजा अय्यर ने कहा कि हम किसानों की आय को बढ़ाने की योजना पर काम कर रहे हैं। यदि मल्टी लेयर फार्मिंग अपनाई जाए तो किसान की आय को तीन गुना कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि नाबार्ड का एलईडीपी प्रोजेक्ट शिवपुरी जिले के 5 गांव में काम कर रहा है। इसमें मल्टी लेयर फार्मिंग से किसानों की आय को बढ़ाया है। इस मॉडल को अपनाने के लिए लगातार दूसरे किसानों को भी विजिट करा रहे हैं।
  कार्यक्रम में उद्यानिकी विभाग से सुनील भदकारिया ने उद्यानिकी विभाग से जुड़ी योजनाओं, एडिशनल डिप्टी डायरेक्टर एग्रीकल्चर श्रीमती किरण रावत ने कृषि विभाग, पशुपालन विभाग से डॉ. गिर्राज शाक्य ने पशुपालन विभाग की योजनाओं, पशुओं पर मिलने वाले अनुदान और सब्सिडी के बारे में बताया। कृषि विज्ञान केंद्र से श्री ए.एल.बसेड़िया एवं श्री अवधेश सक्सेना ने वित्तीय साक्षरता जागरूकता कार्यक्रम से जुड़ी हुई जानकारियों से अवगत कराया। इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक से श्री प्रशांत जैन ने बताया कि इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक अब गांव-गांव तक पहुंचकर किसानों की मदद कर रहा है। किसान इससे जुड़े और अपने गांव में ही सेवाओं का लाभ उठाए। वही आरसेटी संचालक श्री जे.एस.बात्रा ने किसानों और महिलाओं को ट्रेनिंग से जुड़े रहने के लिए सलाह दी।
डीडीएम नाबार्ड ने नाबार्ड की महत्वकांक्षी योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए किसानों को नाबार्ड से जुडने की अपील की। कार्यक्रम में जिले के चार विकासखंड बदरवास, करैरा, शिवपुरी और पोहरी के किसान उपस्थित हुए, जिन्होंने आपस में अपने अनुभव साझा किए। कार्यक्रम में मध्यप्रदेश पर्यटन संघ भोपाल के अध्यक्ष श्री अरविंद्र सिंह तोमर भी उपस्थित रहे। करैरा से धरा संपदा किसान उत्पादक संगठन और समरजीत किसान उत्पादक संगठन की महिलाएं, शिवपुरी ब्लॉक से एलईडीपी प्रोजेक्ट जतन उजाला सेवा संस्था की सदस्यों ने अपनी भागीदारी सुनिश्चित की। विभिन्न गांवों से आए किसान क्लब के सदस्यों ने कृषि से जुड़े हुए अपने सवाल किए। यह कार्यक्रम शिवपुरी जिले के लिए अनूठा प्रयास रहा जिसमें किसानों के साथ प्रश्न और उत्तर किए गये। इसमें किसानों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया और हर सवाल का बड़ी बारीकी से जवाब दिया।

Leave a Reply