Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

संस्कार भारती बालक-बालिकाओं में छुपी हुई कलाओं को निखारने का बखूबी कार्य कर रहा -ः वरिष्ठ समाजसेवी यशवंत भंडारी


भारतीय संस्कृति एवं परंपरा को बनाए रखने के लिए रांगोली जैसी प्रतियोगिताओं का आयोजन बहुत जरूरी -ः वरिष्ठ साहित्यकार पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय
संस्कार भारती इकाई झाबुआ ने भव्य रांगोली प्रतियोगिता एवं ज्ञान पूजन का किया आयोजन, विजेता प्रतियोगियों को पुरस्कार प्रदान किए गए
झाबुआ। संस्कार भारती इकाई झाबुआ द्वारा भारतीय संस्कृति एवं परंपरा को बढ़ावा देने एवं शहर के बालक-बालिकाओं की छुपी हुई प्रतिभाआें को निखारने के उद्देष्य से 19 नवंबर, गुरूवार को दोपहर 11 बजे से शहर के मध्य राजवाड़ा पर भव्य रांगोली प्रतियोगिता एवं मां सरस्वती तथा शास्त्रों की पूजन का आयोजन किया गया। आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला बाल कल्याण समिति (न्याय पीठ) के वरिष्ठ सदस्य यषवंत भंडारी, श्वेतांबर जैन समाज के श्रावक रत्न एवं श्री संघ के पूर्व व्यवस्थापक धर्मचन्द मेहता तथा संस्कार भारती संस्था के वरिष्ठ मार्गदर्षक पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय और विद्वान रमेष शर्मा उपस्थित थे।
जानकारी देते हुए संस्कार भारती अध्यक्ष प्रदीप ओएल जैन एवं महामंत्री श्रीमती स्मृति (मोना) भट्ट ने बताया कि प्रतियोगिया दोपहर 11 से 2.30 बजे तक चली। जिसमें झाबुआ शहर के कुल 15 प्रतिभागियांने सहभागिता की। प्रतियोगियों ने राजवाड़ा पर निर्धारित किए गए अपने-अपने स्थान पर रंग-बिरंगां रंगों से आकर्षक एवं मनमोहक रांगोलियां बनाकर अतिथियों की दाद बटोरने के साथ संस्कार भारती के पदाधिकारी‘-सदस्यों ने भी इन रांगोलियां को काफी सराहा एवं प्रसंषा की। मुख्य रांगोली का निर्माण दिपांषी कटारा ने राजवाड़ा मंच के बीच में करते हुए 19 नवंबर को वीरांगना झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की जयंती होने से उनकी सुंदर रांगोली उकेरी, जिसे काफी सराहना मिली। इसके अलावा नेचुरल रांगोली और तरह-तरह की रांगोली प्रतियोगियां ने बनाई।
मां सरस्वती एवं शास्त्रों की पूजन की
दोपहर 2.15 बजे आयोजन स्थल पर मंच पर मां सरस्वतीजी एवं भागवत गीता और रामायणजी ग्रंथ विराजमान कर विधि-विधान से इनकी पूजन अतिथियों में वरिष्ठ यषवंत भंडारी, धर्मचन्द मेहता, पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय, जर्नादन शुक्ला, पं. रमेष शर्मा ने करते हुए मां सरस्वतीजी को तिलक लगाकर एवं धूप-दीप प्रज्जवलन कर मां सरस्वती एवं गं्रथों पर पुष्पमाला अर्पण करते हुए उन्हें नमन किया। प्रतियोगिता एवं पूजन की व्यवस्था में विषेष सहयोग अध्यक्ष श्री जैन, महामंत्री श्रीमती भट्ट के साथ संगठन मंत्री रविराजसिंह राठौर, वचना परमार, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, पं. जैमिनी शुक्ला, वर्षा शुक्ला आदि का रहा।
बच्चों को भारतीय संस्कृति से जोड़े रखना बहुत जरूरी
बाद अपने संक्षिप्त उद्बोधन में पं. गणेष प्रसाद उपाध्याय ने कहा कि यदि हमे अपनी प्राचीन संस्कृतियां और परंपराआें को सजोए रखना है, तो इस तरह की प्रतियोगिताआें का आयोजन निरंतर होते रहना चाहिए। आज के बच्चां में संस्कार और सभ्यता खत्म होकर वह आधुनिकता की चकाचौंध में बहुत तेजी से आकर्षित हो रहे है। मुझे बहुत खुषी है कि आज एक प्रतिभागी ने महारानी लक्ष्मीबाई की भी सुंदर रांगोली बनाकर उनका आज भी लोगों में जीवंत होने का उदाहरण प्रस्तुत किया है। वरिष्ठ समाजसेवी श्री भंडारी ने अपने उद्बोधन में संस्कार भारती के कार्यों की प्रसंषा करते हुए कहा कि उक्त संस्था झाबुआ शहर के होनहार और प्रतिभावान बालक-बालिकाओं में छुपी हुई प्रतिभाओं और कलाओं को निखारने का कार्य पूरी निष्ठा के साथ कर रहीं है। साथ ही उन्होंने उपस्थित बालक-बालिकाओं से एसएमएस अर्थात कोरोना के बढ़ते संक्रमण से बचाव हेतु साबुन से हाथ धोना, मास्क पहनना और सोष्यल डिस्टेनसिंग का आवष्यक रूप से पालन करने और सभी से करवाने का संदेष दिया।
पुरस्कार प्रदान किए गए
प्रतियोगिता एवं ज्ञान पूजन बाद अतिथियों द्वारा विजेता बालक-बालिकाओं को पुरस्कार प्रदान किए गए। यह पुरस्कार संस्कार भारती से जुड़ी एवं इनरव्हील क्लब ‘मेन’ की संस्थापक ज्योति रांका, अर्चना सिसौदिया, वीणा कटारिया आदि ने अतिथियां एवं संस्कार भारती के पदाधिकारी-सदस्यों के माध्यम से प्रदान किए। प्रतियोगिता दो वर्गों जूनियर एवं सीनियर वर्ग में रखी। जूनियर वर्ग में प्रथम कु. कुमकुम सोनी, द्वितीय आयुषी कटारा एवं तृतीय आभा कटारा रही। वहीं सीनियर वर्ग में प्रथम श्रीमती विधि ठाकुर (पंवार), द्वितीय कु. जूही कोरानवे एवं तृतीय स्थान निधि सारेलकर ने प्राप्त किया। इसके अलावा बेस्ट रांगोली पुरस्कार झांसी की रानी की रांगोली बनाने पर कु. दिपांषी कटारा को प्रदान किया गया। इसके साथ ही सभी प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कार के रूप मेंं प्रमाण-पत्र संस्कार भारती संस्था की ओर से प्रदान किए गए। कार्यक्रम का सफल संचालन संस्था अध्यक्ष प्रदीप जैन ने किया एवं आभार संस्था की मातृ शक्ति प्रमुख प्रिया सारोलकर ने माना।


फोटो 001 -ः झाबुआ के राजवाड़ा पर संस्कार भारती द्वारा आयोजित रांगोली प्रतियोगिता में सुंदर रांगोलियों का निर्माण करते प्रतिभागी।



फोटो 003 -ः कार्यक्रम को संबोधित करते जिला बाल कल्याण समित के वरिष्ठ सदस्य एवं वरिष्ठ समाजसेवी यषवंत भंडारी।


फोटो 004 -ः विजेता एवं समस्त प्रतिभागियों के साथ अतिथि, लाभार्थी इनरव्हील क्लब एवं संस्कार भारती के पदाधिकारीगण।

Leave a Reply