Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

खान पान को शुद्ध रखें -ज्ञानमती माताजी

उच्च स्तरीय बेबीनार सफलता पूर्वक संपन्न

हस्तिनापुर/ जयपुर । परम पूज्य गणिनी प्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी के 87 में जन्म जयंती महोत्सव (23 जुलाई से 31 अक्टूबर 2020 )के अंतर्गत  17 अगस्त 2020 को 4:बजे से जूम एप ऑनलाइन वेबीनार आईएएस बनने के एवं अन्य विद्यार्थियों के लिए अखिल भारतवर्षीय दिगंबर जैन  युवा परिषद्द् द्वारा आयोजित  बेबीनार  सफलतापूर्वक संपन्न हुई। 

राष्ट्रीय महामंत्री  उदयभान जैन जयपुर ने अवगत कराया कि वेबीनार में देश की सर्वोच्च साध्वी गणिनी  प्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी, प्रज्ञा श्रमणी श्री चन्दनामती  माताजी के सानिध्य में,  कुलाधिपति तीर्थंकर महावीर विश्वविद्यालय मुरादाबाद के सुरेश जैन की अध्यक्षता में तथा कार्यक्रम का शुभारम्भ  डाॅ- अनुपम जैन  एवं हसमुख जैन इंदौर द्वारा  किया गया मंगलाचरण भारती जैन दरियाबाद  द्वारा किया गया। 

डाॅ जीवन प्रकाश  जैन राष्ट्रीय अध्यक्ष युवा परिषद द्वारा कुशल   संचालन एवं संयोजन करते हुए कर्मयोगी  स्वस्ति  श्री रवीन्द्र कीर्ति स्वामी जी का परिचय देते हुए उनसे स्वागत भाषण कराया ,स्वामी जी ने अपने स्वागत भाषण में सर्वप्रथम युवा परिषद्  की प्राचीनता एवं सक्रियता  पर प्रकाश डाला,  सभी उपस्थित अतिथियों, वक्तागणों एवं  श्रोताओं का वक्तत्व के माध्यम से स्वागत अभिनंदन किया।

 डॉ जीवन प्रकाश जैन  राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सभी नवीन पदाधिकारियों के बारे में बताया हमें परिचय दिया उन्होंने  बताया कि आज की वेबीनार का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चीफ इंजीनियर गुण सागर जैन प्रद्मुम्न  जैन ,भूषण कासलीवाल  पवन जैन घुवारा ,और संगीतकार रूपेश जैन द्वारा माता जी को अर्घ्य चढाया।  सरस्वती वंदना के लिए राष्ट्रीय मंत्री प्रतिष्ठाचार्य  विजय कुमार जैन हस्तिनापुर  से करवाई गई। 

जीवन प्रकाश जैन ने सर्वप्रथम वक्ता के रूप में सुरेश जैन भोपाल पूर्व आईएएस को आमंत्रित किया, सुरेश जैन ने कहा कि अच्छा सोचें अच्छा बोलें और अच्छा करें अपनी पर्सनलटी को आगे बढ़ाएं और आत्म विश्वास रखें। उन्होंने जैन संस्कृति को संजो कर रखने पर भी प्रकाश डाला ।

  आशू जैन आई आर एस लखनऊ उत्तर प्रदेश  ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि आइ ए  एस, आई आर एस, आई पी एस  आदि देश की,  समाज की, परिवार की सेवा करने के लिए बहुत ही अच्छा मौका है उन्होंने कहा कि राष्ट्र के निर्माण में यह कार्य अतुलनीय है। उन्होंने कहा   कि बच्चों को उपरोक्त कैडर में जाने के लिए कुछ समय के लिए कुर्बान होना पड़ेगा, मेहनत तो करनी होगी, हाई स्कूल के बाद से ही तैयारी शुरू कर देनी चाहिए ,सब्जेक्ट का सिलेक्शन अपनी रूचि के आधार पर करना चाहिए, ग्रुप बनाकर पढ़ाई करनी चाहिए ,कोचिंग की भी सोच सकते हैं ,नोट जरूर तैयार करें, रिवीजन करते रहें ,टाइम टेबल बनाकर नियमित अध्ययन करना चाहिए उन्होंने न्यूज़ पेपर पढ़ने और राइटिंग की प्रैक्टिस करने जैसे टिप्स बताएं। उन्होंने बच्चों से कहा की पढ़ाई के साथ-साथ रैस्ट, प्राणायम और अपने ईस्ट को प्रतिदिन याद करना चाहिए अच्छा खाना और मस्ती पूर्वक जीवन जीने पर प्रकाश डाला। 

 पराग जैन आईएएस मुंबई ने महावीर स्वामी के अनेकांतवाद के सिद्धांत पर प्रकाश डाला और अपनी लाइफ में पॉजिटिव सोच रखने पर जोर दिया उन्होंने स्वाध्याय भी नियमित करने के लिए कहा  ।  

परम पूज्य माताजी ने अपने आशीर्वचन में कहा कि उच्चतर पढ़ाई के बाद खानपान को शुद्ध रखें अपने कर्तव्य, भारतीय संस्कृति ,हिंसा परमो धर्मःके सिद्धांत का कभी नहीं भूलें। उन्होंने सभी उपस्थित अतिथि वक्ता एवं श्रोताओं, छात्र-छात्रओं को आशीर्वाद प्रदान किया ।

परम पूज्य प्रज्ञा श्रमणी श्री चन्दनामती  माता जी ने  उक्त विशेष कार्यक्रम की सराहना की और सभी पदाधिकारियों को आशीर्वाद प्रदान कर उपस्थित बच्चों को कहा कि आज की वेबीनार में जो टिप्स दिए हैं उनको जरूर अपनी दिनचर्या में डालें और संस्कृति समाज धर्म के प्रति सदैव समर्पित रहें।  अध्यक्षीय उद्बोधन में  सुरेश जैन कुलाधिपति टीएमयू मुरादाबाद ने कहा कि जैन समाज के बच्चे भारतीय प्रशासनिक सेवा में आना एक अच्छा संकेत है उन्होंने कहा कि डॉक्टर,इंजीनियर, एम बी बीए,आदि जैसे प्रोफेशनल कोर्स करने के पश्चात बच्चे प्रशासनिक कैडर की ओर जा रहे हैं क्योंकि देश की सेवा करने का अच्छा अवसर है यही देश को आगे बढ़ाते हैं और समाज का नाम भी रोशन करते हैं। 

     अंत में राष्ट्रीय महामंत्री उदयभान जैन जयपुर  ने सभी प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग करने वाले अतिथिगण ,वक्तागणों और श्रोताओं का आभार व्यक्त किया।

उच्च स्तरीय बेबीनार सफलता पूर्वक संपन्न

Leave a Reply