Domain Regd. ID: D414400000 002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
January 17, 2021

Sachcha Dost

A PART OF SACHCHA DOST NEWS ENTERTAINMENT OPC PVT. LTD.

I C U ON WHEEAL ( आई सी यू ऑन व्हील ) के नाम पर रोगियों के साथ लूट और धोखा

रोजाना उदयपुर शहर के निवासी उच्च स्तरीय इलाज के लिये अपने रोगग्रस्त परिजन को लेकर अहमदाबाद, मुंबई जैसे महानगरों की और रूख करते है। जिसके लिये निजी वाहनों और एम्बुलेंस का उपयोग किया जाता है। गंभीर अवस्था अथवा अत्यंत नाजुक स्थिति होने पर उदयपुर से अधिक अहमदाबाद के विशेषज्ञ डॉक्टर्स और क्रिटिकल केअर सुविधाओं का महत्व बढ़ जाता है। इसलिए शहरवासी चाहते है कि सकुशल, बिना तकलीफ के अहमदाबाद पहुँचने की व्यवस्था मिल जाए

इसी मजबूरी और आवश्यकता का फायदा उठा कर कई नर्सिंग और मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध करवाने वाली मेडिकेयर कंपनिया आम जनता के साथ धोखा कर लूट कर रही है

।इस सम्बंध में जब उदयपुर CMHO डॉ दिनेश खराड़ी से बात की गई तो उन्होंने ऐसी किसी भी आई सी यू ऑन व्हील एम्बुलेंस को विभाग द्वारा स्वीकृत किये जाने से इनकार किया। उन्होंने बताया कि एम्बुलेंस साधारण और कुछ विशेष उपकरणों से लैस एडवांस्ड लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस हो सकती है लेकिन आई सी यू ऑन व्हील्स एम्बुलेंस नही कहलाई जा सकती क्योंकि अस्पताल के ICU में कई तरह के उच्च तकनीकी युक्त उपकरण, वेंटिलेटर, इंफ्यूजन पंप, कार्डियक मशीनें, आदि होती है साथ ही ICU के विशेषज्ञ एनेस्थेटिक डॉक्टर और ICU विशेषज्ञ नर्सिंग स्टॉफ भी रहता है जो किसी भी गंभीर अवस्था के रोगी को बचाने/ सामान्य अवस्था मे लाने के लिये पर्याप्त क्षमता रखते है। 

आपकी जानकारी के लिये हॉस्पिटल के ICU के अंदर एडमिट रोगी की मूल बीमारी के अलावा कई अन्य पैरामीटर भी होते है जिन्हें ICU के अंदर नियंत्रित किया जाता है जैसे टेम्परेचर, ब्लड प्रेशर, पल्स, रेस्पिरेशन, ऑक्सीजन लेवल, शुगर ( यदि हो तो ), इलेक्टरॉलाईट्स आदि

नेशनल एम्बुलेंस कोड के अनुसार एम्बुलेंस 4 तरह की होती है

(A) Medical First Responder

(B) Patient Transport Vehicle

(C) Basic Life Support Ambulance

(D) Advance Life Support Ambulance

प्रथम A टाइप की एम्बुलेंस में चलने में असमर्थ रोगियों को ले जाने की सुविधा नही होती, यह साधारण रोगी को प्राथमिक इलाज उपलब्ध कराने के लिये होती है

द्वितीय B टाइप :- साधारण रोगियों को लाने ने जाने के लिये

 तृतीय C टाइप :- आधारभूत जीवन रक्षा उपकरणों एवं स्टॉफ युक्त 

चतुर्थ D टाइप :- कुछ उच्च स्तरीय जीवन रक्षा उपकरणों युक्त, जिनमे श्वसन प्रणाली प्रबन्धन और अन्य मोनिटरिंग उपकरण के साथ ही सहायक स्टॉफ होता है।

टाइप D एम्बुलेंस को भी ICU एम्बुलेंस का दर्जा तकनीकी रूप से और मेडिकल काउंसिल ऑफ इण्डिया  द्वारा नहीं दिया गया है क्योंकि ICU मे विभिन्न तरह के उच्च स्तरीय जीवन रक्षा उपकरण और सुविधाएं होती है साथ ही एनेस्थेटिक डॉक्टर जो ICU के विशेषज्ञ होते है 24 घंटे मौजूद रहते है। ICU का नर्सिंग स्टॉफ भी ICU के कार्यों की अतिरिक्त विशेषज्ञता रखता है।

इसी प्रकार जब उदयपुर आर टी ओ कमिश्नर से बात की गई तो उन्होंने भी किसी भी किसी भी एम्बुलेंस का पंजीकरण आई सी ऑन व्हील्स के नाम से नही किया जाना बताया

किसी भी विभाग से ICU ऑन व्हील्स / क्रिटिकल केअर एम्बुलेंस की स्वीकृति नही होने के बावजूद मेडिकेयर कंपनियां इस तरह के नाम का उपयोग कर 15 से 30 हज़ार तक की लूट अहमदाबाद जाने के लिए कर रही है।

उदयपुर के कई ICU ऑन व्हील्स संचालक ऐसी खटारा एम्बुलेंस भी चला रहे है जिसकी बॉडी के प्रत्येक पुर्जे तक बजते है, स्ट्रेचर तक खराब होता है, गर्मी में AC तक नही चलता। ऐसी एम्बुलेंस में जाने पर जो अनुभव होता है, वो अत्यंत बुरा हादसा होता है।

ICU ऑन व्हील्स एम्बुलेंस के नाम पर की जाने वाली इस लूट के साथ ही धोखा कहा जाना भी उचित होगा

Leave a Reply

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.