Domain Registration ID: D414400000002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

ददिया पंचायत में चाौपाल निर्माण पर लाखो का गोलमोल$$सरपंच-सचिव ने कागजो में चाौपाल निर्माणकर की अजब-गजब की धांधली

ददिया पंचायत में चाौपाल निर्माण पर लाखो का गोलमोल
सरपंच-सचिव ने कागजो में चैपाल निर्माणकर की अजब-गजब की धांधली
मतीन रजा….
लालबर्रा-
एक-दो दशक पूर्व गाँव या कस्बे के बुजुर्ग लोग गांव में लगे नीम, बरगद या पीपल के पेड़ की छाया में बने साधारण से चबुतरे पर बैठकर एक-दुसरे के दुख-दर्द सांझा करते थे, इसी परम्परा को बरकरार रखते हुए शासन इस कार्य की मंजूरी दी जिसका नाम रखा चैपाल निर्माण कार्य। लेकिन कुछ एक जनप्रतिनिधि या अधिकारी-कर्मचारी उस योजना को पलीता लगाने में भी गुरेज नही कर रहे है। कुछ इसी तरह का मामला मुख्यालय से लगभग 5 किमी दूर ग्राम पंचायत ददिया का प्रकाष में आया है। जहा गत सितम्बर 2016 से नवम्बर 2018 के मध्य हुए छः चैपाल निर्माण कागजो में करवाये जाने का आरोप ग्रामीणो ने सरपंच-सचिव पर मड़ते हुए भष्टाचार की उच्चस्तरीय जांच कर संबंधित के विरूध्द दण्डात्मक कार्यवाही की मांग जिला कलेक्टर, जिला सीईओ व जनपद सीईओ से आवेदन सौपकर की है।

उल्लेखनीय हो कि शुरूआती दौर से ही ग्रामीणो द्वारा उक्त कार्यो की शिकायत कर जांच की मांग की जा रही थी, लेकिन स्थानीय अधिकारीयों द्वारा कोई ध्यान नही दिया गया। उक्त पंचायत का यह पहला मामला नही अपितु इससे पूर्व सरपंच-सचिव द्वारा करवाये गये निर्माण कार्यो में भष्टाचार के हैरत-अंगेज कारनामंे मीडिया के माध्यम से ग्रामीणों द्वारा उजागर किये जा चुके है।
कब-कब स्वीकृत हुआ चैपाल कार्य
शासन द्वारा समस्त शासकीय निर्माण कार्यो एवं लेखाजोखा आॅनलाईन करवाया जा रहा है, ताकि निर्माण कार्य पारदर्षिता एवं गुणवत्तापूर्ण बन सके। वे भूल जाते है, कि उनके द्वारा स्वीकृत करवाये गये कार्य एवं लागत को कोई नही देख रहा इसी आॅनलाईन के चक्कर में गोलमाल करते कई जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी-कर्मचारी बेनकाब हो चुके है। ग्राम पंचायत ददिया में 1 सितम्बर 2016 में राज्य वित्त आयोग से 2 लाख 97 हजार रूपये, 26 जनवरी 2017 में राज्य वित्त आयोग से 1 लाख 34 हजार 998 रूप्ये, 2 अक्टूम्बर 2017 में विधायक निधि से 1 लाख 49 हजार 330 रूप्ये, 2 अक्टूम्बर 2017 में राज्य वित्त आयोग से 2 लाख 5 हजार 457 रूपये, 26 जनवरी 2018 विधायक निधि से 1 लाख 56 हजार 915 रूपये एवं 14 वे वित्त आयोग से 1 लाख 36 हजार 800 रूपये की राषि स्वीकृत हुई है, जहा सरपंच-सचिव द्वारा दो-दो कुर्सिया लगाकर उक्त राशि का बंदरबाट किया गया है।

आनन-फानन में टंकी के नीचे लगा दी कुर्सीया
सर्वप्रथम गत 9 जून को ग्रामीणो द्वारा इस कार्य की शिकायत जिला कलेक्टर महोदय से की गई जिसकी भनक लगते ही सरपंच-सचिव द्वारा आनन-फानन में पानी टंकी के नीचे चार कुर्सीया लगाकर उसे चैपाल का नाम दिया गया।

तहसील गार्डन को बना दिया चैपाल
ददिया सरपंच सचिव द्वारा किये गये भष्टाचार के हैरत अंगेज कारनामे टंकी तक ही नही सिमटे ब्लकि इन्होने तो लालबर्रा तहसील के गार्डन को ही ददिया चैपाल कार्य का रूप दे दिया। कलेक्टर सहाब को षिकायत करने के बाद 15 जून को उक्त कार्य के संबंध में जिला एवं जनपद पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारीयो से षिकायत कर उक्त कार्य की उच्चस्तरीय जांचकर संबंधित के विरूध्द दण्डात्मक कार्यवाही की मांग ग्रामीणो द्वारा की गई है।
ग्रामीणों को प्रशासन से उम्मीद
ग्रामीणों का कहना है कि जिला एवं स्थानीय प्रषासन से हमें उम्मीद हैं, कि वे ग्राम पंचायत ददिया में लाखो रूपए की लागत से बने चैपाल का निरीक्षण कर संबंधित उपयंत्री, सरपंच-सचिव के खिलाफ कार्यवाही करेगे क्योकि इस पंचायत की यह पहली षिकायत नही है, ब्लकि कई निर्माण कार्यो की षिकायते की जा चुकि है।
इन्होने की आवाज बुलंद
उक्त मामले की जांचकर संबंधित दोषियो पर कार्यवाही की मांग ग्रामीण राजू पंचेष्वर, रामू नारबोदे, देवराज बरले, दयाल हरिनखेड़े, सौरभ देवराज, दीपक, अनिल पंचेष्वर, रामप्रसाद, जगदीष, लक्ष्मण बिसेन, रेवाराम, गनपत खैरवार, राजेष पंचेष्वर, चैनलाल बरले, उमेष पंचेष्वर, युवराज बरले व मुकेष पंचेष्वर सहित अन्य ने की है।
इनका कहना है-
सरपंच ने बाईक से भरी उड़ान
उक्त संबंध में जब सरपंच कृष्ण कुमार महोबे से प्रतिक्रिया जाननी चाही तो उन्होने बेतुका बयान देते हुए बाईक में सवार होने का हवाला देते हुए फोन काट दिया।
0000000000000000000

तीन वर्ष के भीतर छः चैपाल के लाखो का निर्माण कार्य कागजो में किया गया है, हद तो तब हो गई जब एक चैपाल निर्माण कार्य की राषि तहसील कार्यालय के गार्डन की फोटो लगाकर आहरण कर ली गई। जिसकी शिकायत सर्वप्रथम कलेक्टर महोदय से की गई, तत्पष्चात संबंधित विभाग से।
राजू पंचेश्वर
शिकायतकर्ता

000000000000000000000000000000000000
तात्कालिन पंचायत सचिव द्वारा ञुटिवश फोटो तहसील गार्डन की अपलोड की गई थी जिसे सुधार लिया गया है, वही ग्राम के संपूर्ण चैक-चैराहो में चैपाल की कुर्सिया लगाई गई है। जो आरोप लगाये जा रहे है,वे पूर्णतः निराधार है।
मनोज चैहान
सचिव, ग्राम पंचायत ददिया

SD TV (JAIN TV)

SD TV (MOVIE & ENTERTAINMENT)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *