Domain Registration ID: D414400000002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008

थाना खोड़ारे पर प्राप्त एक मूर्ति को ग्राम पंचायत करूआ पारा की चोरी से ढूंढ रही कनेक्शन पुलिस

थाना खोडारे में एक अष्टधातु की मूर्ति मिली जिसे इटियाथोक पुलिस राम जानकी मंदिर करुआ पारा के एक मूर्ति से उसका कनेक्शन ढूंढ रही है

SD TV (JAIN TV)

SD TV (MOVIE & ENTERTAINMENT)

गोण्डा जनपद के मनकापुर तहसील अन्तर्गत विकास खण्ड बभनजोत के पास चंद्र र्दीप घाट पर नदी में मिला अष्टधातु की मूर्ति।

बरामदगी 01 अदद अष्टधातु मूर्ति, वजन 17 किलो 650 ग्राम-

संक्षिप्त विवरण-
आज दिनाँक 14/06/20 को थाना स्थानीय पर समय 12:00 बजे सूचना प्राप्त हुई कि चंद्रदीप घाट पर मछली निकालते समय दो बच्चों को एक अष्टधातु की मूर्ति प्राप्त है, इस सूचना पर तत्काल प्रभारी निरीक्षक द्वारा मौके पर पहुँच कर पूछताछ की गई तो पता चला कि दो लड़के 1-श्याम सिंह पुत्र रती राम उम्र 12 वर्ष निवासी चंद्रदीप घाट 02-अरुण पुत्र विजय उम्र 12वर्ष निवासी चंद्रदीप घाट पर मछ्ली निकाल रहे थे,तब मछली निकालते समय कुछ उनके पैर में लगा और जब उन्होंने हाथ लगा के देखा तो मूर्ति थी,जिसे कब्जा पुलिस कर सुरक्षार्थ थाने पे लाकर उसकी सूचना डी सी आर पे दी गयी कि जिस किसी थाने क्षेत्र में मूर्ति चोरी की सूचना हो वह तत्काल संपर्क करे।बरामदशुदा मूर्ति का वजन 17 किलो 650 ग्राम है जिसकी कीमत अतर्राष्ट्रीय बाजार में करोड़ों की बतायी जा रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 4 माह पूर्व इटियाथोक थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत करुआ पारा के श्री राम जानकी मंदिर से 4 मूर्तियां गायब हुई थी इटियाथोक पुलिस प्राप्त मूर्ति को करुआ पारा की मूर्ति चोरी से जोड़ रही है लेकिन इस पर कई प्रश्न उठते हैं करुआ पारा से चोरी मूर्ति खोडारे थाना कैसे पहुंची उसे वहां कौन ले गया बाकी तीन मूर्तियां कहां है उन्हें वहां किसने पहुंचाया इसके पीछे कौन कौन है मूर्तियों को किसने चुराया ऐसे कई प्रश्न है जिनके जवाब आम जनमानस को पुलिस को देना होगा केवल एक मूर्ति का सब्जबाग दिखाकर रैकेट व चोरों पर पर्दा नहीं डाला जा सकता पुलिस वास्तव में संजीदा है मूर्ति चोरी के साथ-साथ चोरी करने वाले रैकेट का भंडाफोड़ करना होगा केवल एक मूर्ति को दिखाकर सुर्खियां बटोर रही है तो प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना खोड़ारे मे मूर्ति अचानक मिल गई है मूर्ति का इस तरह अचानक मिलना आम जनमानस विश्वास नहीं कर पा रहे हैं पुलिस के सवालों के जवाब आम जनमानस को देने होंगे , 5 साल पहले राम जानकी मंदिर करूआपारा से श्री लक्ष्मण जी की मूर्ति गायब हुई थी उसका आज तक कोई पता नहीं चला है ऐसे में आम जनमानस का पुलिस पर संदेह करना जायज है इसी तरह गोंडा जनपद सहित कई अन्य जनपदों में भी अष्टधातु की मूर्तियां चोरी हुई है जिनका आज तक पुलिस के द्वारा कोई खुलासा नहीं किया गया है वह मूर्तियां कहां गई उन्हें किसने बेचा और किसने चुराया इस रैकेट में कौन-कौन लोग शामिल है पुलिस आज तक उसका पता नहीं लगा पाई है जिस तरीके से जानकारी दी जा रही है उस तरीके से साफ पता चलता है यह एक संयोग है इसमें पुलिस का कोई योगदान नहीं है वहीं पुलिस एक मूर्ति बरामद कर अपने मियां मिट्ठू बन रही है पुलिस वास्तव में संजीदा है चोरी की गई सभी मूर्तियों को बरामद करना होगा और रैकेट का खुलासा करना होगा तब आम जनमानस पुलिस पर अपना भरोसा कायम रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *