Domain Registration ID: D414400000002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
manish kumat June 13, 2020


झाबुआ। झाबुआ जिले के लिए यह गर्व का विषय है कि जिले के तत्कालीन कलेक्टर रहे आशीष सक्सेना, आज अपने सफलतम कार्यकाल के 32 वर्ष पूर्ण कर चुके है। वे वर्ष 1988 बेच के अधिकारी है और वर्ष 1988 से लेकर वर्ष 2020 तक वे मप्र के कई जिलों में कई उच्च पदों पर आसीन रह चुके है। वर्तमान में वे भोपाल में आयुक्त के पद पर पदस्थ है।
कमिश्नर एवं तत्कालीन कलेक्टर झाबुआ आशीष सक्सेना से चर्चा करने पर उन्होंने बताया कि उनकी ज्वाईनिंग 13 जून 1988 से शासकीय तौर पर शुरू हुई। वे एसडीएम के रूप में शाजापुर में पदस्थ हुए। इसके बाद मप्र के पचोरी,, शिवपुरी, खाचरोद, महिदपुर, बड़नगर, उज्जैन, बैतुल में भी बतौर वरिष्ठ अधिकारी के रूप में पदस्थापना रहीं। शाजापुर में एडीएम, भोपाल में जिला पंचायत सीईओ, अनूपपुर में एमपी हाऊसिंग बोर्ड के सीईओ बने, भोपाल में सीपीए के एडमिनिसट्रेटर के बाद आईएएस अधिकारी के रूप में वर्ष 2016 में झाबुआ जिले के कलेक्टर के रूप में उनकी पदस्थापना हुई। इसके बाद झाबुआ जिले से होषंगाबाद कलेक्टर के रूप में पदस्थ हुए। वर्तमान में वे अरबन डेवलपमेंट में बतौर आयुक्त के साथ कॉपरेटिव बैंक के रजिस्ट्रार (पंजीयक) एवं अपेक्स बैंक भोपाल के प्रषासक भी है। उन्हें सेवानिवृत्त होने में अभी 2 वर्ष ओर शेष है।
झाबुआ जिले में रहते हुए तत्कालीन राष्ट्रपति एवं भारत निर्वाचन आयोग से सम्मानित हुए
आशीष सक्सेना का झाबुआ जिले में कलेक्टर रहते हुए सराहनीय कार्य रहा, या यू कहे कि झाबुआ जिले उनके लिए गुडलक साबित हुआ। जब उन्होंने झाबुआ के कलेक्टर के रूप में ही वे वर्ष 2016 में दिव्यांगजनों के सशक्तिकरण हेतु, दिव्यांगजनों के पुनर्वास सेवा एवं उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए तत्कालीन महामहिम राष्ट्रपति डॉ. प्रणव मुखर्जी से अवार्ड प्राप्त हुआ। वहीं वर्ष 2018 में ही जिले में विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न करवाने तथा मतदान के प्रतिशत में अभूतपूर्व वृद्धि करने पर भारतीय निर्वाचन आयोग द्वारा सम्मानित किया गया। इसके अलावा झाबुआ जिले के ग्राम कालिया बड़ा में शत-प्रतिशत शौचालय बनवाएं जाने तथा ठोस ओर तरल पदार्थो के प्रबंधन में उत्कृष्ट कार्य किए जाने पर स्वच्छता अवार्ड से केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने नवाजा। इसके अतिरिक्त उनके कार्यकाल में पंचायत सषक्तिकरण के क्षेत्र में कार्य करने पर झाबुआ जिला पुरस्कृत हुआ। जिले की थांदला विकासखंड की ग्राम पंचायत परवलिया को वर्ष 2017-18 के लिए पंचायती राज दिवस पर राष्ट्रीय स्तर पर दीन दयाल उपाध्याय पंचायती सषक्तिकरण पुरस्कार प्राप्त हुआ। इसके अलावा भी अनेक पुरस्कार, सम्मान और उपलब्धियां उनके कार्यकाल में दर्ज है।


हमेशा शिक्षा, स्वास्थ्य और स्वच्छता को दिया प्रोत्साहन


आईएएस अधिकारी आशीष सक्सेना ने अपने कार्यकाल में हमेषा से ही शिक्षा, स्वास्थ्य और स्वच्छता का वि विशेष प्रोत्साहन दिया एवं इन क्षेत्रों में उन्होंने समय-समय पर उल्लेखनीय और उत्कृष्ट कार्य कर खिताब हासिल किए। इसके साथ ही पंचायत सषक्तिकरण, सामाजिक न्याय विभाग, झाबुआ जिले में सामाजिक बुराईयों दहेज, बाल विवाह कुप्रथा को जड़ से समाप्त करने के लिए लगातार तड़वी, पटेल, सरपंच-सचिवों की बैठक कर निर्देषित करना, बालिका षिक्षा, पर्यावरण जागरूकता के क्षेत्र में झाबुआ से सटा हाथीपावा को विकसित करने में उनका मार्गदर्षन एवं सहयोग काफी महत्वपूर्ण रहा। वरिष्ठ नागरिकों एवं वृद्धजनों के लिए भी कार्य किया। समय-समय पर मप्र एवं भारत सरकार की तमाम योजनाओं को क्रियान्वयन करने एवं हितग्राहियों को लाभान्वित करने में भी उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। स्वच्छता भारत मिषन में शौचालय निर्माण एवं प्रधानमंत्री आवास योजना को क्रियान्वित करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया। आशीष सक्सेना को सफलतम 32 वर्ष के कार्यकाल की अनेकों शुभकामनाएं …. ।


फोटो -ः झाबुआ के तत्कालीन कलेक्टर एवं वर्तमान आयुक्त भोपाल आषीष सक्सेना।


फोटो 006 -ः 13 जून 1988 को हुई आषीष सक्सेना के कार्यकाल की शुरूआत। (राईट के निषान में आषीष सक्सेना)।

फोटो 008 -ः वर्ष 2018 में विधानसभा चुनाव मे झाबुआ जिले में मतदान प्रतिषत बढ़ाने पर भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सम्मानित हुए।

फोटो 007 -ः वर्ष 2016 में झाबुआ जिले में दिव्यांगजनों के लिए उत्कृष्ट कार्य करने पर तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ. प्रणव मुखर्जी से हुए सम्मानित।

SD TV (JAIN TV)

SD TV (MOVIE & ENTERTAINMENT)

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*