Domain Registration ID: D414400000002908407-IN Editor - vinayak Ashok Jain (Luniya) 8109913008
manish kumat April 29, 2020

लॉक डाउन में सैकडों किमी दूर फंसे श्रमिकों के चेहरों पर घर वापसी से आई खुशियों भरी मुस्कान,
खरगोन जिले के करीब 200 श्रमिकों को उनके घरों तक पहुंचाया, श्रमिकों ने माना आभार

अलिराजपुर- परिजनों से सैकडों किमी दूर दो जून की रोटी के लिए खरगोन जिले के अलग-अलग गांव के ग्रामीण मजदूरी हेतु गुजरात के खेडा जिले में गए थे वहां बीते एक माह से लॉक डाउन की वजह से फंसे हुए थे। उन्हें जैसे ही मालूम हुआ म.प्र. सरकार द्वारा उन्हें गृह जिले में पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है। मानो उनकी खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा। करीब 40 परिवार के लगभग 200 सदस्य मंगलवार रात को गुजरात-म.प्र. सीमा पर अलीराजपुर जिले के चांदपुर चैक पोस्ट पर पहुंचे। यहां अलीराजपुर जिला प्रशासन द्वारा सभी सदस्यों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया। तत्पश्चात सभी के लिए चांदपुर स्थित राहत शिविर स्थल पर नाष्ता-भोजन आदि की व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई गई। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्रीमती सुरभि गुप्ता के दिशा निर्देश पर उक्त समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित होने के बाद उक्त समस्त खरगोन जिले के ग्राम बमनाला, खेडी, बडगांव, गोगांव, बिलखेडी, सोनीपुरा, हीरापुर सहित करीब 20 से अधिक ग्रामों के इन श्रमिकों को उनके गृह जिले खरगोन पहुंचाने के लिए बसों की व्यवस्था की गई। जिला प्रशासन की व्यवस्थाओं से खुश उक्त श्रमिक खुशी-खुशी अपने घरों की ओर लौटे तथा उन्होंने मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान की श्रमिकों को उनके घर पहुंचाने की पहल और जिला प्रशासन अलीराजपुर द्वारा की गई व्यवस्थाओं पर आभार व्यक्त किया। करीब एक माह के लंबे इंतजार के बाद अपने घर पहुंचने की खुशी बया करते हुए बलीराम वानखेडे, रामकिशन भार्गव, सलिता भार्गव, दीपमाला मिश्रा सहित कई श्रमिकों ने मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के प्रयासों पर आभार व्यक्त करते हुए कहा कि हम अपने छोटे-छोटे बच्चों के साथ एक-एक दिन बडी ही चिंता के साथ काट रहे थे। ऐसे में मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा श्रमिकों के घर पहुंचाने की जानकारी मिली, हमारी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। वे बताते है कि मंगलवार रात को ग्राम चांदपुर पहुंचने के बाद अलीराजपुर जिला प्रशासन ने स्वास्थ्य जांच कराकर हमारे भोजन एवं रूकने की समुचित व्यवस्था की। प्रशासन ने हमारे घर पहुंचने हेतु बसों की व्यवस्था की। हम खुशी-खुशी अपने घरों को पहुंच रहे है।

SD TV (JAIN TV)

SD TV (MOVIE & ENTERTAINMENT)

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*