योग पर छात्राओं को दिए व्याख्यान

Spread the love

प्रतिदिन अध्ययन कार्य से पूर्व संस्था परिसर मंे 10 मिनिट योग आवष्यक रूप से करे -ः श्रीमती अर्चना राठौर
सच्चा दोस्त से झाबुआ संवाददाता दौलत गोलानी की रीपोर्ट

झाबुआ। सौंदर्य और स्वास्थय के लिए पंतजलि योग समिति हरिद्वार की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, मुख्य योग प्रषिक्षक तथा महिला आयोग सखी श्रीमती अर्चना राठौर ने उत्कृष्ट कन्या उमा विद्यालय में योग पर विस्तृत व्याख्यान दिया।
श्रीमती अर्चना राठौर ने छात्राओं को जीवन में सदैव स्वस्थ रहने के लिए सैद्धांतिक तरीके से प्रणायाम और आसन करने के बारे विस्तार से बताया। साथ ही प्रायोगिक तौर पर भी प्रणायाम एवं आसान के बारे में जानकारी दी। योग से होने वाले लाभ के बारे में बताते हुए कहा कि योग करने से आप हमेषा स्वस्थ और निरोगी रहेंगे। कभी भी किसी प्रकार को कोई भी बिमारी आपको छू नहीं पाएगी। योग में सबसे महत्वपूर्ण कपाल भाति प्रणायाम है, यह 100 बिमारी की एक दवा है। आप छात्राएं अध्ययन करने से पूर्व संस्था परिसर में प्रतिदिन 10 मिनिट भी यदि योग करती है, तो शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रख सकती है।
प्रकृति हमारी पोषक और षिक्षक भी है
इस अवसर पर मुख्य योग प्रषिक्षक राठौर ने योग के कठिन से कठिनतम प्रणयााम एवं आसन की जानकरी देते हुए यह भी बताया कि कई आसनों के नाम तो जानवर, पक्षियों और फूलों के नाम पर भी रखे गए है, अर्थात प्रकृति हमारी पोषक और षिक्षक भी है, यह हमे आहार देने के साथ योग की विभिन्न मुद्राओं से भी परिचित करवाती है। योग शरीर को सुदंर बनाने में भी लाभकारी साबित होता है। इस अवसर पर संस्था की व्याख्याता श्रीमती जयश्री पंवार भी उपस्थित थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *