सास और साले द्वारा लगातार प्रताडि़त करने पर युवक ने जहर पीकर आत्महत्या करने की कोषिष की, रानापुर रोड़ पर दुकान के पीछे गड्ढ़े में परिजनों को मिला युवक

सास और साले द्वारा लगातार प्रताडि़त करने पर युवक ने जहर पीकर आत्महत्या करने की कोषिष की, रानापुर रोड़ पर दुकान के पीछे गड्ढ़े में परिजनों को मिला युवक


झाबुआ। स्थानीय कैलाष मार्ग निवासी एक विवाहित युवक को उसकी सास और साले द्वारा लगातार पैसे मांगने से नहीं देने पर प्रताडि़त करने से परेषान होकर युवक ने रानापुर रोड़ पर अपनी दुकान के पीछे जाकर जहरीली दवाई पीकर आत्महत्या करने की कोषिष की। गंभीर हालत में युवक परिवारजनों को गड्ढ़े में पड़ा मिला। बाद उसे उपचार हेतु दाहोद ले जाया गया, जहां हालत गंभीर बनी हुई है।
पूरा मामला इस प्रकार है कि कैलाष मार्ग निवासी प्रदीपसिंह पिता रणजीतसिंह चौहान उम्र 30 वर्ष का विवाह विगत 19 मई 2015 को इंदौर निवासी प्रिया चौहान से हुआ। शादी के कुछ समय बाद से ही प्रदीप की सास प्रिया चौहान की मां अनिता चौहान एवं साले पत्नि के भाई शुभम ने 50 हजार रू. देने को लेकर लगातार प्रताडि़त किया जाने लगा। प्रदीप को सास अनिता चौहान एवं साले शुभम ने कहा कि यदि 50 हजार रू. उधार के बतौर नहीं दिए तो वह उस पर दहेज प्रताड़ना का झूठा प्रकरण दर्ज करवाकर उसे जेल भिजवा देंगे, चूंकि प्रदीप परिवार से गरीब होने से जैसे-तैसे अपनी पत्नि एवं एक बच्चें तथा माता-पिता का पालन पोषण करता है।
पत्नि को लाने के लिए जाने के लिए मायक पक्ष के लोग झाबुआ पहुंचे
पत्नि प्रिया वर्तमान में गर्भ से भी है। बावजूद इसके अनिता और शुभम द्वारा पति से लगातार पैसों की मांग के साथ डराने-धमकाया जा रहा था। इस बीच प्रिया के मायके पक्ष के लोग उसे लेने के लिए निजी वाहन से झाबुआ प्रदीप के घर आए और जबरन पत्नि को ले जाने लगे, इस पर प्रदीप द्वारा कहा गया कि उसकी पत्नि फिलहाल गर्भ से है, ऐसी अवस्था में उसकी यहां देखरेख की आवष्यकता है।
लगातार प्रताड़ना से परेषान होकर पी जहरीली दवा
अततः 25 मई की रात्रि रानापुर रोड़ पर भंडारी पेट्रोल पंप के समीप प्रदीप ने अपनी दुकान पर रात्रि में अपने आपको पाते हुए इस प्रताड़ता से अत्यधिक हताष होकर जहरीली दवाई पीकर आत्महत्या करने की कोषिष की। जब देर रात पति घर नहीं लौटा, तो परिवारजनों द्वारा उसकी तलाष आरंभ की।
पुलिस थाने पर गुमषुदगी दर्ज करवाई
काफी तलाष करने के बाद प्रदीप का पता नहीं चलने पर पत्नि प्रिया ने पुलिस थाना झाबुआ पर पति की गुमषुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई एवं इस दौरा पूरे मामले की जानकारी भी दी। इस बीच तलाष करने पर पता चला कि प्रदीप दुकान के पीछे ही गड्ढ़े में बेहोष हालत में पड़ा है। बाद परिवारजनों द्वारा वहां पहुंचकर गंभीर अवस्था में उसे उपचार हेतु सर्वप्रथम वरदान हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां होष नहीं आने पर दाहोद के लिए रेफर किया गया। जहां युवक का उपचार किया जा रहा है, हालत गंभीर बनी हुई है। इस मामले में युवक के माता-पिता का कहना है कि प्रदीप को होष आने के बाद उनके द्वारा युवक को लगातार प्रताडि़त एवं डराने-धमकाने के मामला पुलिस थाना झाबुआ पर प्रदीप की सास एवं साले तथा अन्यजनों के खिलाफ दर्ज करवाया जाएगा।
फोटो 003 -ः दाहोद चिकित्सालय में प्रदीप को भर्ती कर किया जा रहा उपचार, युवक की हालत फिलहाल गंभीर बनी हुई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *