सुभाष मार्ग, बोहरा गली, कस्तूरबा मार्ग हुआ कंटेनमेंट एरिया और बफर जोन मुक्त, खोले गए सभी रास्ते, न्यू कंटेनमेंट एरिया हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी के सभी रास्ते अभी भी है सील नगरपालिका ने करवाया सेनेटाईजेषन

सुभाष मार्ग, बोहरा गली, कस्तूरबा मार्ग हुआ कंटेनमेंट एरिया और बफर जोन मुक्त, खोले गए सभी रास्ते, न्यू कंटेनमेंट एरिया हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी के सभी रास्ते अभी भी है सील नगरपालिका ने करवाया सेनेटाईजेषन


झाबुआ (दौलत गोलानी)। जिले में कोरोना की रफतार फिलहाल थमी हुई है। यह झाबुआ जिले में लिए सुखद खबर है कि यहां कोरोना वायरस के इक्का-दुक्का केस ही वर्तमान में एक्टीव है। अन्य सभी कोरोना संक्रमित मरीजों के स्वास्थ्य में सुधार होकर स्वस्थ हो चुके है। पिछले दिनों सुभाष मार्ग में 2 कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए थे। सुखद यह है कि दूसरे पाए गए कोरोना पाॅजीटिव मरीज के स्वास्थ्य मंे पूर्णतः सुधार है। पहला मरीज अभी भी इंदौर में भर्ती है, चूंकि उक्त मरीज कोरोना के साथ केसर से भी ग्रसित है। वहीं 28 जून को हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी में भी एक युवक कोरोना संक्रमित पाया गया, जो विदेष से लौटकर आया था। जिसके बाद पुरानी हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी, न्यू हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी एवं लक्ष्मीनगर सील हैै।
झाबुआ जिले में वर्तमान में कोरोना के 2 ही एक्टीव है। जिसमें सुभाष मार्ग का एक युवक जो इंदौर में भर्ती है एवं एक नया केस जो हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी में आया है। मिली जानकारी के अनुसार सुभाष मार्ग के एक अन्य मिले कोरोना पाॅजीटिव व्यक्ति को पूरी तरह से स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दे दी गई है। हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी में मिला युवक करीब 20 वर्ष का होकर क्र्रिकिस्तान से होकर झाबुआ लौटा था। जिसकी रिपोर्ट पाॅजीटिव आई थी। जिसके बाद जिला प्रषासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पहुंचकर उक्त युवक को बाड़कुआ क्वारंेटाईन सेंटर मंे भर्ती करने के साथ ही न्यू हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी, पुरानी हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी और लक्ष्मीनगर को सुरक्षा की दृष्टि से सील कर दिया और आवागमन मार्ग पर बेरीकेट्स लगा दिए गए। इन मार्गों में नगरपालिका की स्वच्छता शाखा की ओर से सत्त सेनेटाईजेषन कार्य भी करवाया जा रहा है तथा सभी प्रवेष मार्गाें पर पुलिस की भी तैनाती की गई है।
सुभाष मार्ग, कस्तूरबा गली, बोहरा गली को प्रषासन ने खुलवाया
उधर शहर के सुभाष मार्ग जो कंटनेमेंट एरिया घोषित किया गया था। वहीं बोहरा गली और कस्तूरबा मार्ग बफर जोन बनाए गए थे। जिसे जिला प्रषासन ने पूरी तरह से सील करते हुए सभी रास्तों पर तार फ्रेसिंग कर दी थी। जिला प्रषासन की ओर से यह कार्रवाई बीती 10 जून को की गई थी, जिस अनुसार 30 जून को 21 दिन पूर्ण होने पर देर शाम को लोक निर्माण विभाग के अमले ने सुभाष मार्ग, कस्तूरबा गली और बोहरा गली के सभी रास्तों पर लगाई तार फ्रेसिंग खोलकर इन्हें कंटेनमेंट और बफर जोन से मुक्त कर दिया है। इस दौरान स्वयं एसडीएम एमएल मालवीय, तहसीलदार के साथ वार्ड पार्षद जितेन्द्र पंचाल भी उपस्थित रहे।
अब रहवासियों का आवागमन के साथ व्यापार भी कर सकेंगे
सुभाष मार्ग, कस्तूरबा मार्ग और बोहरा गली कंटनमेंट और बफर जोन से मुक्त होने के बाद रहवासियांे ने काफी राहत की सांस ली है। चूंकि बीती 10 जून से उक्त तीनों मार्ग के रहवासी रास्ते सील होने से आवागमन और व्यापार पूरी तरह से ठप्प हो गया था। रहवासी काफी परेषान थे। आवष्यक सामग्रीयों के लिए भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था अब रहवासियों का आवागमन सुचारू होने के साथ ही व्यापारी अपनी नियमित दुकाने भी खोल सकेंगे। वहीं इन मार्गों में अन्य लोगों का भी प्रवेष हो सकेगा।
1 जुलाई से शुरू हो रहा अनलाॅक का फेज-02
देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 30 जून की शाम 4 बजे देष के नाम संबोधन में 1 जुलाई से अनलाॅक का फेज-02 शुरू करने की घोषणा की गई है। जिससे ओर भी कई नई रियायते रहेगी। उन्होंने बताया कि भारत देष में कोरोना महामारी के कंट्रोल करने में काफी सफलता मिली है। साथ ही उन्हांेने यह साफ तौर पर कहा कि कोरोना वायरस से बचाव हेतु देषवासियांे को अभी भी सावधानियां बरतना आवष्यक है। इसके लिए फेस मास्क, गमछे के उपयोग साथ दो गज की दूरी बनाए रखने पर जोर दिया।


फोटो -ः झाबुआ के सुभाष मार्ग के बेरीकेट्स और तार फ्रेसिंग हटा दी गई है

फोटो -ः अनलाॅक हुआ सुभाष मार्ग, कस्तूरबा मार्ग और बोहरा गली।


फोटो -ः झाबुआ के हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी में नगरपालिका द्वारा करवाया जा रहा सत्त सेनेटाईजेषन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *