जय बाबा री 7 वीं पैदल यात्रा के नेतृत्व में रामदेवरा के लिए करीब 70 यात्रियों का पैदल समूह झकनावदा से हुआ रवाना.. भक्तों के हाथ में बाबा का झंडा व जय बाबा री गुंज सुनाई दी।

जय बाबा री 7 वीं पैदल यात्रा के नेतृत्व में रामदेवरा के लिए करीब 70 यात्रियों का पैदल समूह झकनावदा से हुआ रवाना

भक्तों के हाथ में बाबा का झंडा व जय बाबा री गुंज सुनाई दी।

पेटलावद तहसील के झकनावदा मैं जय बाबा री सातवीं पैदल यात्रा में झकनावदा व आस-पास के गांव से मिलकर करीब 70 यात्रियों का समूह स्थानीय रामदेव जी मंदिर पर एकत्रित होकर सभी यात्रियों ने बाबा रामदेव जी मंदिर पर दर्शन पूजन कर अपनी यात्रा की शुरुआत की उक्त यात्रा में बैंड बाजों के साथ सभी यात्रियों को नगर के प्रमुख मार्गो से घुमाकर गणेश मंदिर ले जाया गया जहां से कई समाजसेवी संगठनों ने सभी यात्रियों का पुष्प माला पहनाकर स्वागत अभिनंदन किया साथ ही सभी यात्रियों का नगर के कई चौराहों पर जगह-जगह स्वागत स्वल्पाहार करवाया। उसी क्रम में एक नजर आए ऐसा भी मिला एक बहन रक्षाबंधन पर तेज बारिश के कारण अपने भाई को राखी बांधने नहीं पहुंच पाई तो 16 अगस्त को वह अल सुबह पहुंची व अपने भाई को राखी बांधकर उसे आशीर्वाद दिया कि आपकी यात्रा मंगलमय हो और खुशी खुशी रामदेवरा यात्रा के लिए रवाना किया। वही इस यात्रा को प्रथम वर्ष शुरुआत करने वाले दिलीप सोलंकी से हमारे संवाददाता द्वारा बात करने पर बताया कि की प्रथम वर्ष तो यात्रा करना बड़ा कठिन होता है लेकिन बाबा जब शक्ति देते हैं तो राह अपने आप मंजिल की ओर ले जाती है वहीं हरीश सोनी ने बताया कि मैं प्रथम बार बाबा रामदेव के दर्शन करने पैदल जा रहा हूं मुझे नहीं पता कि मेरे मन में यह ख्याल कहां से आया लेकिन बाबा ने आवाज दी है तो हम अपने मार्ग को नापते हुए अपनी मंजिल की ओर रामदेवरा के लिए निकल पड़े हैं यात्रा का पहला पड़ाव बोलासा में रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *