जानलेवा हो गया है फोरलेन बायपास, सड़के धसकी, दरके ओवरब्रिज |

नेशनल डेवलपमेंट हेड अतुल जैन की रिपोर्ट

शिवपुरी। ट्रैफिक की समस्या को देखते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा ठेका कंपनी से 17 किमी का नया फोरलेन बायपास बनवाया गया है। एस्सेल कंपनी द्वारा फोरलेन बायपास का काम अधूरा छोड़ दिया है जिससे बैलेंस वर्क पूरा नहीं हो पा रहा है। इसी बीच बरसात में रोड़ कुछ जगह धसक गई है और कई जगह उखड़ चुकी है। इसी के साथ रेलवे लाइन के ऊपर बने दोनों ओवरब्रिज में दरारें पड़ चुकी हैं। जिससे निर्माण कार्य पर सवाल उठाए जा रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक एस्सेल कंपनी ने डेढ़ साल पहले फोरलेन बायपास का काम लगभग कंप्लीट कर दिया था। कुछ कागजी औपचारिकताओं की वजह से बैलेंस वर्क छोड़कर रखा था। लेकिन इसी बीच कंपनी इस प्रोजेक्ट में घाटा होता देख खुद को टर्मिनेट करने का पत्र देकर पीछे हट गई है। जिससे बैलेंस वर्क अधूरा रह गया है। इसी बीच बरसात हो जाने से सड़क कई जगह से धंसक गई है।

नौहरीकलां गांव के पास रेल की पटरी के ऊपर बना ओवरब्रिज भी दरक गया है। टोंगरा रोड से आगे दूसरे ओवरब्रिज में भी काफी दरारें आ गईं हैं। एक तरफ का कुछ हिस्सा टूट भी गया है। जिससे निर्माण कार्य की भी पाेल खुलकर सामने आ गई है। बैलेंस वर्क और सड़क धसकने सहित अधूरे काम की वजह से वाहन चालकाें को परेशानी हो रही है।

ठेकेदार पर कार्रवाई नहीं, इसलिए अनदेखी : राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा फोरलेन बायपास के अधूरे काम को लेकर ठेका कंपनी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही। शुरूआती दौर में बैलेंस वर्क को लेकर ठोस कदम नहीं उठाए। उसके बाद रोड धसकने और रेलवे ओवर ब्रिज में आईं दरारों को लेकर भी सख्त कार्रवाई नहीं की गई। एनएचएआई की इसी अनदेखी की वजह से काम अधूरा है।

हम प्रस्ताव भेज चुके हैं दिल्ली से होना है निर्णय

बैलेंस वर्क का करीब 22 करोड़ रुपए का एस्टीमेट तैयार कर प्रस्ताव दिल्ली भेज चुके हैं। एस्सेल कंपनी काम को लेकर भी पत्र लिखा है। निर्णय वरिष्ठ कार्यालय से होना है। राजेश गुप्ता, प्रोजेक्ट डायरेक्टर, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण जिला शिवपुरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *